कोलकाता से एक व्यक्ति ने किए थे उद्धव ठाकरे और शरद पवार को धमकीभरे कॉल, ATS का खुलासा

मुंबई : शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) को धमकीभरे कॉल करने के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार कोलकाता निवासी एक व्यक्ति ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray), राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख और राकांपा प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) के घरों पर भी इसी तरह के कॉल किए थे। एटीएस (ATS) के अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। कोलकाता पुलिस ने कहा था कि बोस ने अभिनेत्री कंगना रनौत का प्रशंसक होने का दावा किया है।

उन्होंने बताया कि आरोपी पलाश बोस ने यह फोन कॉल करते समय खुद को दाऊद इब्राहिम के गिरोह का सदस्य होने का दावा किया था। एक अधिकारी ने बताया कि बोस (49) 15 साल से अधिक समय तक दुबई में रहा था और कुछ साल पहले कोलकाता लौट आया था। उन्होंने बताया कि उसने ये कॉल एक सिमकार्ड का इस्तेमाल कर किया था, जो उसने दुबई से खरीदा था। बोस ने जांचकर्ताओं को बताया कि उसने यह कॉल करने के लिए अंतरराष्ट्रीय सिम कार्ड का भी इस्तेमाल किया था। अधिकारी ने बताया कि पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि बोस का दुबई में कोई संबंध था या नहीं।

आतंकवाद निरोधी दस्ते के पुलिस उपायुक्त विक्रम देशमने ने कहा कि राउत की शिकायत पर पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 505, 506 और 507 के तहत मामला दर्ज किया गया था। उन्होंने बताया कि पुलिस ने इनमें आपराधिक कानून संशोधन अधिनियम, 1932 की धारा 7 को भी जोड़ा है।

उन्होंने कहा कि जांच के दौरान, एटीएस मुंबई को एक विश्वसनीय स्रोत से जानकारी मिली कि आरोपी कोलकाता में छिपा हुआ है, जिसके बाद उसे उस शहर से पुलिस निरीक्षक दया नायक के नेतृत्व में एक टीम ने गिरफ्तार कर लिया। डीसीपी ने बताया कि पुलिस ने आरोपी के पास से दो मोबाइल फोन, चार सिम कार्ड बरामद किए। इनमें से तीन अंतरराष्ट्रीय और एक घरेलू सिम कार्ड है। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि धमकीभरे कॉल करने के मकसद का पता लगाया जा रहा है।

आरोपी को 14 सितंबर तक ट्रांजिट रिमांड पर रखा गया है। कोलकाता पुलिस ने कहा था कि बोस ने अभिनेत्री कंगना रनौत का प्रशंसक होने का दावा किया है। गौरतलब है कि हालिया कुछ दिनों से शिवसेना और अभिनेत्री के बीच तनातनी चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.