पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा की विवादित भड़काऊ बयान पर पुलिस का एक्शन…!

पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा की विवादित भड़काऊ बयान पर पुलिस का एक्शन…!

Rokthok Lekhani

मुंबई : पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी और दिल्ली के भाजपाई नेता नवीन जिंदल द्वारा कथित विवादित बयान का ट्विटर पर ट्वीट करके समर्थन किए जाने के मामले में हिंदुस्थान को वैश्विक स्तर पर फजीहत का सामना करना पड़ रहा है। इस्लामिक देशों में विशेष तौर पर खाड़ी देशों के साथ हमारे व्यावसायिक हित तथा खाड़ी देशों में रहनेवाले हिंदुस्थानी नागरिकों खासकर हिंदुओं की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। भाजपा की नूपुर और नवीन के झटके के कारण खाड़ी के मित्र देशों को दुश्मन बनाने के बाद अब हिंदुस्थान की मोदी सरकार होश में आई है। मोदी सरकार ने बेसिर-पैर की बकवास करनेवाले अपने नेताओं को हद में रहने का निर्देश दे दिया है।

इसके अलावा बद्जुबानी करने के लिए कुख्यात कुछ नेताओं के खिलाफ अब पुलिस ने भी नकेल कसना शुरू कर दिया है। इस कड़ी में नूपुर, नवीन, मुफ्ती नदीम, असदुद्दीन ओवैसी और यति नरसिंहानंद सहित ९ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो चुकी है तथा और कितनों की बैंड बजेगी इस पर सभी की नजर लगी है। २०१४ के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के खिलाफ आक्रामक प्रचार से मिली बड़ी जीत ने भाजपाइयों को आक्रामक ढंग से प्रचार करने की प्रेरणा मिली। खुद को सबसे बड़ा राष्ट्रभक्त तथा हिंदुत्ववादी साबित करने के लिए भाजपा के नेता और प्रवक्ता विरोधियों को गलत तथा अपनी बातों को सही साबित करने के लिए जोर देकर झूठ बोलने की नीति अमल में लाने लगे।

इसमें उनकी बी और सी पार्टी के लोग और सुपारी लेकर काम करनेवाले लोग भी मदद करते रहे हैं। उनकी ऐसी स्तरहीन राजनीति से सारी मर्यादाओं को ताक पर रखने का रिवाज हिंदुस्थान की राजनीति में शुरू हो गया है। पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा का बयान और बाद में अन्य लोगों की प्रतिक्रिया इसका प्रमाण है। इसके कारण खाड़ी देशों में हिंदुस्थान के खिलाफ स्वर मुखर हुए हैं। यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर कचरा पेटियों पर लगाकर हिंदुस्थान का अपमान किया गया। हिंदुस्थान के खिलाफ इस्लामिक और खाड़ी देशों के मुखर होने से उत्साहित मुस्लिम नेता और धर्मगुरु हिंदुस्थान में ही हिंदू देवी-देवताओं की अवमानना कर रहे हैं।

इससे देश में हालात विस्फोटक होने लगे हैं। गृहयुद्ध भड़क सकता है। हालात की नजाकत को मोदी ने देर से ही सही लेकिन समझने की जहमत उठाई। केंद्र सरकार के निर्देश पर दिल्ली पुलिस ने आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) पार्टी प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, स्वामी यति नरसिम्हानंद, नूपुर शर्मा, नवीन जिंदल, मौलाना मुफ्ती नदीम, अब्दुर रहमान, शादाब चौहान, सबा नकवी, गुलजार अंसारी, अनिल कुमार मीणा और पूजा शकुन आदि के खिलाफ भड़काऊ बयान, भाषण देने, सोशल मीडिया में नफरत भरे मैसेज साझा करने आदि आरोपों के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। इसी कड़ी में कई सोशल मीडिया संस्थाओं के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है।


Tags:
Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

जैकलीन, हॉलीवुड की थी चाह, ऐसे बना बॉलीवुड में करियर जैकलीन, हॉलीवुड की थी चाह, ऐसे बना बॉलीवुड में करियर
बॉलीवुड की खूबसूरत और ग्लैमरस अभिनेत्रियों में शुमार जैकलीन फर्नांडीज 11 अगस्त को अपना जन्मदिन सेलिब्रेट करती हैं। एक्ट्रेस ने...
40 लाख का गांजा जब्त, विशाखापट्टनम से अजमेर में हो रही थी अवैध तस्करी
ओबेद रेडियोवाला को जमानत : महेश भट्ट की हत्या की साजिश
लोकसभा चुनाव हुए तो महाराष्ट्र में BJP-शिंदे गुट को लगेगा बड़ा झटका
मंत्रिमंडल को लेकर गरमाएगी सियासत! भाजपा की पंकजा मुंडे ने जाहिर की नाराजगी
20 में से 15 मंत्रियों के खिलाफ आपराधिक मामले: एडीआर
बांद्रा लिंकिंग रोड इलाके में फायरिंग

Join Us on Social Media

Videos