७/११ वर्ष २००६ लोकल सीरियल ब्लास्ट की बरसी, धमाकों में २०९ निर्दोष लोगों की मौत…

७/११ वर्ष २००६ लोकल सीरियल ब्लास्ट की बरसी, धमाकों में २०९ निर्दोष लोगों की मौत…

Rokthok Lekhani

मुंबई : ७/११ यानी वर्ष २००६ के जुलाई महीने की ७ तारीख के उस काले दिन की दर्दनाक यादें। उस दिन मुंबई की लाइफ लाइन कही जानेवाली लोकल ट्रेनों में एक के बाद एक ऐसे ७ शृंखलाबद्ध धमाके हुए थे। पश्चिम रेलवे की उपनगरीय ट्रेनों में हुए उन धमाकों में २०९ निर्दोष लोगों की मौत हो गई थी, जबकि ७०० से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए थे। उक्त घटना की आज बरसी है।

१६ साल बाद भी लोकल ट्रेनों में सफर करनेवाले यात्री उन धमाकों को याद करके कांप उठते हैं। लोकल के यात्रियों को आज भी डर लगता है लेकिन रेलवे ने इससे कोई सबक सीखा होगा, ऐसा लगता नहीं है। रेलवे पुलिस और आरपीएफ चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था का दावा तो करती है लेकिन हकीकत में यात्रियों की सुरक्षा रामभरोसे ही नजर आती है। बता दें कि आज ही के दिन २००६ में माहिम से भायंदर के बीच लोकल ट्रेनों में एक के बाद एक ७ धमाके उस समय हुए थे, जब दिनभर के काम निपटा कर लोग घर जा रहे थे।

इन धमाकों के बाद कुछ दिनों के लिए रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था सख्त की गई थी। रेल परिसर खासकर प्लेटफॉर्मों पर सीसीटीवी से निगरानी रखे जाने, प्रवेश द्वारों पर संदिग्धों की जांच के लिए रेल पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई थी। मेटल डिटेक्टर एवं डोर प्रेâम मेटल डिटेक्टर के जरिए यात्रियों की जांच की जाती थी, लेकिन उस घटना के कुछ दिन बाद सुरक्षा व्यवस्था शिथिल हो गई। नतीजतन दो साल बाद यानी २६ नवंबर, २००८ को मुंबई के रेल यात्री एक बार फिर आतंकी हमले का शिकार बन गए। २६ / ११ आतंकी हमले के रूप में जाने जानेवाले मध्य रेलवे के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस पर हुए उक्त आतंकी हमले को भी अब रेलवे ने भुला दिया है।

ट्रेन में यात्रा करने वाली पूजा ने बताया कि हमारी सुरक्षा रामभरोसे है। लेडीज डिब्बे में सामान बेचने वाले, भिखारी सहित अन्य लोग घुस जाते हैं। आपातकालीन स्थिति में सहायक बूथ पर पुलिस के जवान भी नहीं रहते हैं, वहीं फस्र्ट क्लास में यात्रा करनेवाली दर्शाना लक्ष्मण झोरे ने बताया कि यात्रियों की सुरक्षा सिर्पâ दिखावा है। रेलवे प्रशासन की लापरवाही, मनमानी के बीच जनरल डिब्बे के लोग भी फस्र्ट क्लास में सफर करते हैं। इस दौरान पुलिस स्टेशन पर नजर नहीं आती है।


Tags:
Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

मुंबई के माहिम इलाके में ताजिया जुलूस 50 फीसदी से कम देखा गया , मुसलमानों ने रोज़ा रखा और गरीबों में लंगर वितरित किए मुंबई के माहिम इलाके में ताजिया जुलूस 50 फीसदी से कम देखा गया , मुसलमानों ने रोज़ा रखा और गरीबों में लंगर वितरित किए
मुंबई के माहिम में इलाके ताजिया जुलूस 50 फीसदी से कम देखा गया । ताजिया ज्यादातर धारावी से आतेह है...
80 लाख कीमत का 266 किलो गांजा जब्‍त, दो गिरफ्तार...
मुंबई के लोकल ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ कर रहा था युवक...
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने जस्टिस यूयू ललित को देश के अगले मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति किया
शरद पवार पर उपमुख्यमंत्री फडणवीस ने साधा निशाना, आज भले ही हम बिहार में नहीं, लेकिन...
नीतीश कुमार ने सीएम पद और तेजस्वी यादव ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली
महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश, विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं स्थगित...

Join Us on Social Media

Videos