मुंबई में मनपा झोपड़पट्टियों में तलाश रही जगह ...20 से 35 हजार जनसंख्या पर बनेगा स्वास्थ्य केंद्र

Searching for a place in Mumbai's municipal slums... will be built on 20 to 35 thousand population health center

मुंबई में मनपा झोपड़पट्टियों में तलाश रही जगह ...20 से 35 हजार जनसंख्या पर बनेगा स्वास्थ्य केंद्र

मुंबई : मनपा प्रशासन ने  झोपड़पट्टियों में बड़ी संख्या में स्वास्थ्य केंद बनाने का निर्णय लिया है. यह केंद्र 20 से 35 हजार जनसंख्या वाले स्थानों पर  बनेंगे।  झोपड़ पट्टियों में मनपा के पास जगह उपलब्ध नहीं होने पर मनपा के सामने समस्या खड़ी हो गई है। 

मनपा झोपड़पट्टियों में जगह तलाश रही है जहां पोर्टा केबिन रख कर दवाखाना शुरु किया जा सके. मनपा  अतिरिक्त आयुक्त डॉ संजीव कुमार ने बताया कि जिन इलाकों में अस्पताल की कमी है वहां पोर्टा केबिन लगा कर दवाखाना शुरु किया जाएगा. शुरुआती चरण में हमने 34 इलाकों का चयन किया है.  जहा पर पोर्टा केबिन क्लीनिक उपलब्ध कराए  जाएंगे.उन्होंने बताया कि यह प्रक्रिया अब अपने अंतिम चरण में है.

जगह की कमी से परेशानी- पिछले कई सालों से मुंबई के अस्पतालों में ज्यादा से ज्यादा प्राथमिक देखभाल मुहैया कराने की मांग की जा रही है और इसके लिए अस्पतालों की संख्या बढ़ाना भी जरूरी है. इसलिए   मनपा  ने अब  अस्पतालों की संख्या बढ़ाने के लिए एक कदम उठा रही है. अस्पतालों के लिए जगह नहीं होने के कारण अस्पताल शुरु करने में मुश्किल आ रही हैं. 

पोर्टा केबिन में इलाज- मनपा  विशेष रूप से झुग्गी बस्तियों में क्लीनिकों के निर्माण पर ज्यादा जोर दे  रहा है. लेकिन वहां अस्पताल स्थापित करने के लिए जगह नहीं है, इसलिए मनपा  ने पोर्टा केबिन बनाने और अस्पताल की सुविधा को जनता के लिए उपलब्ध कराने का फैसला किया है.शुरुआत में मनपा  ने 34 जगहों पर पोर्टा केबिन में क्लीनिक शुरआत करेगी।

डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि मनपा द्वारा झोपड़ पट्टियो में क्लीनिक स्थापित करने का प्रयास किया जा रहा है. चूंकि झुग्गियों में जगह नहीं है, अब पोर्टा केबिन बनाए जाएंगे और उनमें क्लीनिक शुरू किए जाएंगे. इसलिए 60 पोर्टा केबिनों के लिए निविदा आमंत्रित की गई है.  34 जगह पर पोर्टा केबिन के लिए जगह तय हो गई हैं, वहां इन क्लीनिकों का निर्माण किया जाएगा.

इन क्लीनिकों के लिए डॉक्टरों के रजिस्ट्रेशन का काम चल रहा है. इसके अलावा, इसके लिए आवश्यक चिकित्सा उपकरण और अन्य सामग्री की खरीद की प्रक्रिया अंतिम चरण में है.  इन सामग्रियों और डॉक्टरों की उपलब्धता के तुरंत बाद, अगले कुछ दिनों में स्लम क्षेत्रों के लोगों को क्लीनिक की सुविधा उपलब्ध होगी. उन्होंने बताया कि अब 250 एमबीबीएस डॉक्टर के आवेदन प्राप्त हो चुके हैं.

मुफ्त में होगा इलाज और मिलेगी दवाई ..

इस केबिन के माध्यम से मनपा मरीजों का मुफ्त में ईलाज करेगी। 

मनपा रजिस्ट्रेशन का भी पैसा नहीं लेगी और दवाई भी मुफ्त में देगी। 

इन दवाखानो पर मनपा टेस्ट आदि भी करेगी। 

 

Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

खत्म होगा पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का वनवास, अगले महीने लंदन से पाकिस्तान लौटेंगे खत्म होगा पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का वनवास, अगले महीने लंदन से पाकिस्तान लौटेंगे
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का वनवास आखिरकार जल्द ही समाप्त होगा। वे अगले महीने तक पाकिस्तान लौट सकते...
सैफ अली खान को नवाब खानदान में पैदा होने के बावजूद तरसना पड़ता था छोटी चीज के लिए...
सुधीर मुनगंटीवार के आदेश पर नाराज हुई रजा अकादमी...
9 बार किया था रिलायंस अस्पताल के नंबर पर फोन...मुकेश अंबानी को दी थी जान से मारने की धमकी, जूलर ने अंबानी को क्यों दी धमकी?
मौत का हाईवे बनता जा रहा है मुंबई- पुणे एक्सप्रेस वे...4 महीने में 5,332 डेथ, 10 हजार से ज्यादा जख्मी
मुंबई में फिर बढ़ा कचरा... 6,500 मीट्रिक टन कचरा निकल रहा है रोजाना
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कहा केंद्र के स्तर पर कोई भ्रष्टाचार नहीं...

Join Us on Social Media

Videos