शिवसेना के साथ गठबंधन स्थायी नहीं, हम हालात के चलते साथ आए- कांग्रेस

Alliance with Shiv Sena is not permanent, we came together because of circumstances: Congress

Advertisement

Creative Point Photo Videography (Mumbai)
शिवसेना के साथ गठबंधन स्थायी नहीं, हम हालात के चलते साथ आए- कांग्रेस

महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी गठबंधन (MVA) सरकार को गए डेढ़ महीना भी नहीं बीता है, लेकिन कांग्रेस और शिवसेना में अभी से तकरार दिखने लगी है। महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने शुक्रवार को कहा कि उद्धव ठाकरे की पार्टी के साथ उनका गठबंधन स्वाभाविक और स्थायी नहीं है। जिस समय शिवसेना से गठबंधन हुआ था, उस दौरान परिस्थितियां अलग थीं।

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी गठबंधन (MVA) सरकार को गए डेढ़ महीना भी नहीं बीता है, लेकिन कांग्रेस और शिवसेना में अभी से तकरार दिखने लगी है। महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने शुक्रवार को कहा कि उद्धव ठाकरे की पार्टी के साथ उनका गठबंधन स्वाभाविक और स्थायी नहीं है। जिस समय शिवसेना से गठबंधन हुआ था, उस दौरान परिस्थितियां अलग थीं।

पटोले ने विधान परिषद में विपक्ष के नेता के तौर पर शिवसेना के अंबादास दानवे की नियुक्ति पर भी नाराजगी जताई।​​​​​​ उन्होंने कहा कि यह पद कांग्रेस को दिया जाना चाहिए था। NCP और शिवसेना ने मिलकर दोनों पद आपस में बांट लिए हैं। 

शिवसेना ने हाल ही में अपनी पार्टी के अंबादास दानवे को विधान परिषद में विपक्ष का नेता बनाया था। पटोले ने आरोप लगाया कि कांग्रेस को विश्वास में लिए बिना यह कदम उठाया गया। पटोले ने कहा- विधानसभा में NCP की ओर से विपक्ष का नेता बनाया गया, जबकि परिषद के उपाध्यक्ष का पद शिवसेना को दिया गया है।

पटोले ने कहा कि विपक्ष का नेता कांग्रेस की ओर से होना चाहिए था, लेकिन हमसे पूछे बिना फैसला लिया गया। हम इस मुद्दे को उठाएंगे। हम इस मामले पर शिवसेना से बात करने को तैयार हैं। अगर वे बात नहीं करना चाहते, तो यह उनकी चिंता है। हमने उनके साथ एक अलग स्थिति में गठबंधन किया था। यह हमारा स्वाभाविक या स्थायी गठबंधन नहीं है।

पटोले ने शिंदे और फडणवीस के नेतृत्व वाली नई सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों और पैसे का इस्तेमाल कर सरकार बनाने का आरोप लगाया। साथ ही यह भी दावा किया कि सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी।

पटोले ने कहा- सरकार बनने के 39 दिन बाद मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। महाराष्ट्र में एक परंपरा है कि विभागों को तुरंत आवंटित किया जाता है, लेकिन अभी तक इस पर फैसला नहीं हुआ है। इससे पता चलता है कि दोनों पार्टियों के बीच बड़े मंत्रालयों को लेकर लड़ाई चल रही है।

Advertisement

Creative Point Photo Videography (Mumbai)
Citizen Reporter
Report Your News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Advertisement

Creative Point Photo Videography (Mumbai)

Join Us on Social Media

Latest News

नवी मुंबई में दिन दहाड़े घर में घुसे चोर...  इलाके में चोरों की घटनाओं से दहशत का माहौल नवी मुंबई में दिन दहाड़े घर में घुसे चोर... इलाके में चोरों की घटनाओं से दहशत का माहौल
नवी मुंबई के सीबीडी बेलापुर इलाके में चोरों की घटनाओं से नागरिकों में बेहद दहशत का माहौल है। चोरों के...
उत्तर प्रदेश में बीजेपी से नजदीकियों के बीच एक मंच पर दिखे डिप्टी सीएम और राजभर, ब्रजेश ने ओमप्रकाश को बताया स्थायी मित्र...
फिल्म 'पोन्नियिन सेल्वन' की बॉक्स ऑफिस पर छप्पर फाड़ कमाई जारी...
फिल्‍म 'आदिपुरुष' पर भड़के बीजेपी विधायक राम कदम...फिल्‍म मेकर्स पर बैन लगाने की भी कही बात
जाने-माने उद्योगपति मुकेश अंबानी परिवार को धमकी देने वाला बिहार से गिरफ्तार, मुंबई ला रही पुलिस...
कांदिवली में पुराने पादचारी और रोड ब्रिज को तोड़कर बनेगा रोड ब्रिज... खर्च होंगे 56 करोड़ 
मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 80 करोड़ रुपए की DRI ने पकड़ी ड्रग्‍स, 1 शख्‍स को किया ग‍िरफ्तार...

Advertisement

Creative Point Photo Videography (Mumbai)

Join Us on Social Media

Videos