Sheena Bora Murder Case : हाईकोर्ट ने पीटर मुखर्जी को दी जमानत, लेकिन नहीं आ सकेंगे जेल से बाहर

Sheena Bora Murder Case : हाईकोर्ट ने पीटर मुखर्जी को दी जमानत, लेकिन नहीं आ सकेंगे जेल से बाहर

मुंबई। बॉम्बे हाई कोर्ट ने गुरुवार को शीना बोरा मर्डर केस के आरोपी पीटर मुखर्जी को जमानत दे दी। पीटर, उसकी पूर्व पत्नी इंद्राणी, इंद्राणी के पूर्व पति संजीव खन्ना और ड्राईवर श्यामवर राय पर इंद्राणी की बेटी शीना की हत्या का आरोप है। पीटर नवंबर 2015 से आर्थर रोड जेल में बंद है। जस्टिस नितिन सांबरे ने पीटर की जमानत दो लाख रुपए की गारंटी पर मंजूर की।

हाईकोर्ट ने पीटर को जमानत देने के साथ ही इस आदेश को छह हफ्ते के लिए लंबित रखा है, जिससे की सीबीआई इस बेल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील कर सके। मुखर्जी को जमानत भले ही मिल गई है लेकिन छह हफ्तों तक उसे जेल से छोड़ा नहीं जा सकता है। पीटर ने विशेष जज जेसी जगदाले के समक्ष कहा कि मुझे नहीं पता कि मैं कब तक जिंदा रहूंगा, इसलिए मैं विदेश में रहने वाले अपने बच्चों से बात करना चाहता हूं।

तब अदालत ने कहा कि वह जेल में लोगों से मिल सकता है। इस पर पीटर ने कहा कि अब तक मैं केवल ऐसे लोगों से मिला हूं, जो इस मामले से जुड़े रहे हैं। मैं उनसे मिलना चाहता हूं जो मेरे दिल के करीब हैं। इस पर जज ने कहा कि कोर्ट पीटर के अनुरोध पर ध्यान देगा।

उल्लेखनीय है कि पीटर और इंद्राणी ने पिछले साल सितंबर में बांद्रा के एक कोर्ट में आपसी सहमति से तलाक के लिए अर्जी दायर की थी। तलाक के दौरान उनकी संपत्तियों के बंटवारे पर भी सहमति बन गई। इसमें स्पेन व लंदन की संपत्तियां और अन्य निवेश शुमार हैं। 65 वर्षीय पीटर और 47 वर्षीय इंद्राणी की शादी साल 2002 में हुई थी।

Tags:
Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

20 में से 15 मंत्रियों के खिलाफ आपराधिक मामले: एडीआर 20 में से 15 मंत्रियों के खिलाफ आपराधिक मामले: एडीआर
महाराष्ट्र के 75 प्रतिशत मंत्रियों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज होने की घोषणा की है। ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’...
बांद्रा लिंकिंग रोड इलाके में फायरिंग
स्पाइसजेट विमान में जब टपकने लगा बरसात का पानी
तीन महीने में 2 हजार से ज्यादा बिजली चोरी के मामले, दस अतिरिक्त विशेष टीमों के गठन की घोषणा
फर्जी पुलिसवाला गिरफ्तार, बिना हेलमेट बाइक चलाने वालों से पैसे वसूलने का आरोप
बिजनेसमैन से मांगे 1 लाख रुपये, जबरन वसूली के आरोप में एक शख्स गिरफ्तार
टल गया हादसा, बस का ब्रेक हुआ फेल

Join Us on Social Media

Videos