प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो संदेश के जरिए देशवासियों से बहुत ही अहम अपील की क्यों चुना 5 अप्रैल का दिन, कहीं ये वजह तो नहीं!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो संदेश के जरिए देशवासियों से बहुत ही अहम अपील की क्यों चुना 5 अप्रैल का दिन, कहीं ये वजह तो नहीं!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह 9 बजे वीडियो संदेश के जरिए देशवासियों से बहुत ही अहम अपील की। पीएम मोदी ने कोरोना संकट से उपजे अंधकार को मात देने के लिए देशवासियों से एक अपील की है। उन्होंने देशवासियों से आने वाल 5 अप्रैल के दिन रात 9 बजे घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती , दिया टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने को कहा है।

Read More अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने FBI पर लगाया पासपोर्ट चोरी का आरोप, बोले- जल उठेगा US

Read More उर्दू भाषा के वरिष्ठ पत्रकार अनवर हुसैन का निधन

बहरहाल क्या आपको पता है कि पीएम मोदी ने ऐसा करने के लिए 5 अप्रैल का दिन ही क्यों चुना। दरअसल भारतीय इतिहास में इस दिन कई अहम घटना हुई हैं। इसलिए इस दिन को विशेष तौर पर तरजीह दी है। आइए जानते हैं 5 अप्रैल के महत्व के बारे में….

Read More स्पाइसजेट विमान में जब टपकने लगा बरसात का पानी

महात्मा गांधीजी 5 अप्रैल को ही दांडी पहुंचे
भारतीय इतिहास की कई अहम घटनाओं में से दांडी यात्रा एक अहम घटना माना जाती है। महात्मा गांधी ने भारत की स्वतंत्रता के लिए दमनकारी नमक कानून तोड़ने के लिए दांडी यात्रा की थी। वह ऐतिहासिक दिन 5 अप्रैल ही था जब गांधीजी दांडी पहुंचे थे। दांडी मार्च या नमक सत्याग्रह महात्मा गांधी के नेतृत्व में एक अहिंसक आंदोलन था जिसको लोगों का काफी समर्थन मिला और दुनिया भर में इसकी चर्चा हुई।

Read More ...पत्नी के साथ हिंसा करने वाले पति को घर से निकालना सही -मद्रास हाईकोर्ट 

5 अप्रैल को भारतीय शिप (Indian Ship) मुंबई से ब्रिटेन यात्रा पर पहली बार गया
हर साल भारत में 5 अप्रैल को नेशनल मैरीटाइम डे (National Maritime Day) मनाया जाता है। यह दिन भारत के लिए बेहद खास माना जाता है, क्योंकि 5 अप्रैल 1919 को पहली भारतीय शिप (Indian Ship) मुंबई से ब्रिटेन की यात्रा पर निकली थी। सिंधिया स्टीम नेविगेशन कंपनी का 5,940 टन का पोत लिबर्टी अपनी पहली यात्रा पर रवाना हुआ था। वह पोत इंग्लैंड की यात्रा पर गया था। भारतीय जहाजरानी के इतिहास की वह इसलिए अहम घटना थी क्योंकि उस समय समुद्री मार्गों पर अंग्रेजों का कब्जा था। इसी तारीख को 1979 में देश का पहला नौसेना संग्रहालय मुंबई में खुला था।

5 अप्रैल को हुआ था बाबू जगजीवन राम का जन्म
बाबू जगजीवन राम का जन्म 5 अप्रैल, 1908 को हुआ था। उनके नाम 50 सालों तक सांसद रहने का वर्ल्ड रेकॉर्ड है। 1936 से 1986 तक वह सांसद रहे। बाबू जगजीवन राम उन चुनिंदा लोगों में शामिल थे जिन्होंने सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ी। वर्ष 1935 में ऑल इंडियन डिप्रेस्ड क्लासेज लीग की स्थापना में अहम भूमिका निभाई थी। इस संगठन ने दलितों को समान अधिकार देने और उनके कल्याण के लिए काम किया।

Tags:
Join Us on Telegram
Telegram
Join Us on Whatsapp
Whatsapp
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

35 वर्षीय पत्रकार व्यक्ति ने शादी की मांग से तंग आकर की प्रेमिका की हत्या... 35 वर्षीय पत्रकार व्यक्ति ने शादी की मांग से तंग आकर की प्रेमिका की हत्या...
महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले से एक सनसनीखेज खबर सामने आई हैं, यहां एक पेशे से पत्रकार व्यक्ति ने अपनी प्रेमिका...
विधायक बच्चू काडु ने की दल बदल कानून समाप्त करने की मांग...
20 अगस्त तक के लिए इन जिलों में जारी अलर्ट , भारी बारिश से अभी नहीं मिलेगी राहत...
शिंदे सरकार कर सकती है यह बड़ा बदलाव...महाराष्ट्र में अब खुलकर जांच करेगी CBI!
भिवंडी में जीएसटी रैकेट का भंडाफोड़, 41 करोड़ की फर्जी बिल मिले, एक गिरफ्तार
ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #BoycottDobaara, तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप की विश यूजर्स ने की पूरी...
पूर्व राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे का वर्ल्ड टूर...पहले मालदीव भागे, फिर सिंगापुर और अब US में बसने की तैयारी

Join Us on Social Media

Videos