कला निर्देशक राजू सपते सुसाइड केस: गृहमंत्री के निर्देश से महाराष्ट्र पुलिस हरकत में, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

कला निर्देशक राजू सपते सुसाइड केस: गृहमंत्री के निर्देश से महाराष्ट्र पुलिस हरकत में, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

Rokthok Lekhani

महाराष्ट्र : प्रख्यात कला निर्देशक राजू सपते को आत्महत्या के लिए उकसाने/बाध्य करने के मामले में नामजद मुख्य अभियुक्त राकेश मौर्या को महाराष्ट्र पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। सपते अपने घर पर 2 जुलाई को फंदे से लटकते पाए गए थे।

आत्महत्या करने से पहले उन्होंने अपना एक वीडियो रिकॉर्ड करके अपने साथियों को भेज दिया था। राजू सपते की पत्नी की शिकायत पर इस मामले में वाकड पुलिस थाने में पांच लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज हुआ। इस मामले में राकेश को मिलाकर पुलिस अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। मुकदमे में फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉईज (एफडब्लूआईसीई) के दो बड़े नेताओं को भी नामजद किया गया है।

मामले में आरोपित समेत सभी अभियुक्तों पर मकोका लगाए जाने की मांग को लेकर पिंपरी चिंचवजड के पुलिस आयुक्त के साथ मजदूर नेताओं की बीते दिन ही मुलाकात हुई थी। कला निर्देशक राजू सपते की आत्महत्या का मामला महाराष्ट्र की राजनीति में तूल पकड़ चुका है। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉईज (एफडब्लूआईसीई) के जो दो नेता इस मामले में नामजद है उनको लेकर भी फेडरेशन में उठापटक शुरू हो चुकी है। फेडरेशन लगातार इस कोशिश में हैं कि एफआईआर में नामजद नेताओं का संबंध फेडरेशन से न जुड़ने पाए।

फेडरेशन के पीआरओ शशिकांत सिंह कह रहे हैं कि फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉईज के कोषाध्यक्ष गंगेश्वर श्रीवास्तव और इसी संस्था के महासचिव अशोक दुबे का नाम नामजद अभियुक्तों के तौर पर लेते समय फेडरेशन का नाम न लिया जाए क्योंकि एफआईआर या राजू सपते के आत्महत्या पूर्व रिकॉर्ड किए गए वीडियो में फेडरेशन का नाम नहीं है।
हालांकि, ऑल इंडिया सिने वर्कर्स यूनियन की तरफ से महाराष्ट्र सरकार को सौंपे अपने पत्र में न सिर्फ इन दोनों नामजद अभियुक्तों के फेडरेशन के साथ संबंध को उजागर किया गया है बल्कि इस पत्र में प्रदेश के एक बड़े बीजेपी नेता का नाम भी हिंदी फिल्म व मीडिया इंडस्ट्री में सक्रिय इन तत्वों को संरक्षण देने के लिए लिया गया है। 

पुलिस के मुताबिक अब तक की जांच में ये सामने आया है कि मामले में नामजद अभियुक्त चंदन ठाकरे और राजू सपते भागीदारी में काम करते थे। ठाकरे ने सपते के साथ कथित रूप से धोखाधड़ी की और कई योजनाओं में उन्हें नुकसान पहुंचाया। दूसरे अभियुक्तों ने राजू सपते से 10 लाख रुपये की रंगदारी की मांग की और उनके हर नए प्रोजेक्ट में से एक लाख रुपये की मांग रखी। इन अभियुक्तों ने राजू से 2.5 लाख रुपये ले भी लिए थे। एफआईआऱ के मुताबिक पुलिस ने नामजद अभियुक्तों के खिलाफ आपराधिक षडयंत्र रचने, आत्महत्या के लिए उकसाने, धोखाधड़ी करने, विश्वासघात करने, वसूली आदि गंभीर मामलों में कार्रवाई शुरू की है।


Tags:
Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

मुख्यमंत्री शिंदे के विधायक की दादागिरी, बोले- हाथ-पैर तोड़ दो...जमानत मैं करा दूंगा... मुख्यमंत्री शिंदे के विधायक की दादागिरी, बोले- हाथ-पैर तोड़ दो...जमानत मैं करा दूंगा...
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के समर्थक विधायक प्रकाश सुर्वे की दादगिरी सामने आई है। विधायक ने एक कार्यक्रम के...
पूर्व पुलिस कमिश्नर संजय पांडे से जुड़ा है मामला: ईडी और CBI को दिल्ली हाईकोर्ट का नोटिस...
राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने नागरिकता बिल लौटाया, अब देउबा सरकार के आगे नई चुनौती...
फिल्म द डर्टी पिक्चर के सीक्वल पर काम शुरू, विद्या बालन नहीं ये अभिनेत्री आ सकती हैं नजर...!
मुंबई पुलिस ने की 513 किलो ड्रग्स जब्त...एक हजार करोड़ रुपये से अधिक है कीमत
खत्म होगा पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का वनवास, अगले महीने लंदन से पाकिस्तान लौटेंगे
सैफ अली खान को नवाब खानदान में पैदा होने के बावजूद तरसना पड़ता था छोटी चीज के लिए...

Join Us on Social Media

Videos