मुंबई : पेगासस के नाम पर देश को बदनाम करने की साजिश- देवेंद्र फड़नवीस

मुंबई : पेगासस के नाम पर देश को बदनाम करने की साजिश- देवेंद्र फड़नवीस

Read More मुंबई में नेट फिल्टर तकनीक से होगा खाड़ी का कचरा साफ, मालाड ख़ाडी से शुरुआत...

Rokthok Lekhani

Read More गांव जाने से पत्नी करने लगी मना, सनकी पति ने अपनी पत्नी पर चाकू से कर दिया हमला...

मुंबई : विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने विपक्ष पर पेगासस के नाम पर भारत सरकार को बदनाम करने की साजिश रचने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टेलीग्राफ एक्ट को और मजबूत बनाया है, जिससे इसका दुरुपयोग करने वालों पर कठोर सजा दी जा सकती है। पेगासस फोन टेपिंग की जांच के लिए जेपीसी जांच की जरूरत नहीं है।

Read More कांदिवली पश्चिम में 63 लाख वाली ऑडी 34 लाख रुपए में खरीद रहे थे डॉक्‍टर साहब, ठग ने लगाया 25 लाख का चूना...

देवेंद्र फड़नवीस ने मंगलवार को मुंबई में पत्रकारों को बताया कि पेगासस फोन टेपिंग मामले में 45 देशों के नाम हैं, लेकिन संसद की कार्रवाई शुरू होने से ठीक एक दिन पहले जिस तरीके से इसे मीडिया में पब्लिश किया गया और विपक्ष मामले को लेकर संसद की कार्रवाई को डिरेल करने का प्रयास कर रहा है, उससे इस मामले में विपक्ष की मंशा को लेकर संदेह उत्पन्न हो जाता है।
फड़नवीस ने कहा कि जब-जब भारत विकास के मार्ग पर आगे जाने लगता है, तब -तब देश विरोधी ताकतें उसे पीछे धकेलने के लिए इस तरह का प्रयास करती रहती हैं। मेगासस फोन टेपिंग मामला भी इसी साजिश का नतीजा लग रहा है। देवेंद्र फड़नवीस ने कहा फोन टेपिंग का मामला कोई नया नहीं है।

Read More उर्दू भाषा के वरिष्ठ पत्रकार अनवर हुसैन का निधन

समाजवादी पार्टी के तत्कालीन नेता अमर सिंह ने 2006 में फोन टेपिंग का मामला संसद में उठाया था। इसी तरह 2009 में ममता बनर्जी ने भी फोन टेपिंग का मामला संसद में उठाया था। वर्ष 2010, 2011 व 2012 में भी संसद में फोन टेपिंग का मामला उठ चुका है। उस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि फोन टेपिंग राष्ट्रीय सुरक्षा, मनी लॉड्रिंग व विशिष्ठ सुरक्षा मामलों में टेलग्राफ एक्ट के तहत किया जाता है, इसमें कुछ गैर नहीं है।

फड़नवीस ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मंत्रिमंडल में दलित, आदिवासी, पिछड़े वर्ग के लोगों को प्रतिनिधित्व दिया है, इससे विपक्ष बौखला गया है। इसीलिए संसद में जनहित के मुद्दों पर चर्चा रोकने के लिए पेगासस फोन टेपिंग के नाम पर सदन का कामकाज चलने नहीं दे रहा है।

Tags:
Join Us on Telegram
Telegram
Join Us on Whatsapp
Whatsapp
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

35 वर्षीय पत्रकार व्यक्ति ने शादी की मांग से तंग आकर की प्रेमिका की हत्या... 35 वर्षीय पत्रकार व्यक्ति ने शादी की मांग से तंग आकर की प्रेमिका की हत्या...
महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले से एक सनसनीखेज खबर सामने आई हैं, यहां एक पेशे से पत्रकार व्यक्ति ने अपनी प्रेमिका...
विधायक बच्चू काडु ने की दल बदल कानून समाप्त करने की मांग...
20 अगस्त तक के लिए इन जिलों में जारी अलर्ट , भारी बारिश से अभी नहीं मिलेगी राहत...
शिंदे सरकार कर सकती है यह बड़ा बदलाव...महाराष्ट्र में अब खुलकर जांच करेगी CBI!
भिवंडी में जीएसटी रैकेट का भंडाफोड़, 41 करोड़ की फर्जी बिल मिले, एक गिरफ्तार
ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #BoycottDobaara, तापसी पन्नू और अनुराग कश्यप की विश यूजर्स ने की पूरी...
पूर्व राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे का वर्ल्ड टूर...पहले मालदीव भागे, फिर सिंगापुर और अब US में बसने की तैयारी

Join Us on Social Media

Videos