ठाणे मनपा की महिला सहायक आयुक्त कल्पिता पिंपले पर चाकू से वार कर उंगली काटने वाले आरोपी , हमलावर को मिली पुलिस हिरासत

ठाणे मनपा की महिला सहायक आयुक्त कल्पिता पिंपले पर चाकू से वार कर उंगली काटने वाले आरोपी , हमलावर को मिली पुलिस हिरासत

Rokthok Lekhani

ठाणे: ठाणे मनपा की महिला सहायक आयुक्त कल्पिता पिंपले पर चाकू से वार कर उंगली काटने वाले आरोपी अमरजीत यादव को न्यायालय ने एक सप्ताह की पुलिस हिरासत में भेजा है। कासारवडवली पुलिस ने यादव को मंगलवार की दोपहर ठाणे न्यायालय में पेश किया था। पुलिस के अनुसार यादव के खिलाफ इससे पूर्व कोई मामला पुलिस में दर्ज नहीं है।

दूसरी तरफ फेरीवालों के खिलाफ मनपा की कार्रवाई मंगलवार को भी जारी रही। मनपा के दस्ते ने ठाणे स्टेशन व सैटिस परिसर, कोपरी, जांभली नाका, नौपाडा, गावदेवी मंदिर, कलवा स्टेशन पूर्व, कलवा सब्जी मार्केट, सहकार बाजार, कलवा नाका, खारेगाव मार्केट व पारसिक परिसर में फेरीवालों पर कार्रवाई की।

सोमवार की सायं कल्पिता पिंपले की उपस्थिति में मनपा दस्ता कासारवडवली परिसर में फेरीवालों और हाथगाड़ियों पर कार्रवाई कर रहा था। उसी दौरान गुस्साए यादव ने चाकू से पिंपले पर हमला किया था ।

घटना में पिंपले के हाथ की दो उंगली कट गई थी और सिर पर चोट आयी थी। इसके अलावा पिंपले के बचाव में आगे आये सुरक्षा रक्षक की भी एक उंगली कट गयी थी। घटना के तुरंत बाद पुलिस ने यादव को गिरफ्तार किया था। पिंपले और सुरक्षा रक्षक दोनों का अस्पताल में इलाज शुरू है।

इससे पहले मई 2017 में नौपाडा के गावदेवी मैदान परिसर में मनपा की तोड़क कार्यवाई से गुस्साए फेरीवालों ने तत्कालीन उपायुक्त संदीप मालवी पर हमला किया था और उनकी पिटाई की थी। घटना में मालवी जख्मी हो गए थे। घटना में मालवी के कपडे फट गए और उन्हें शरीर के विभिन्न स्थानों पर चोट आई थी।

घटना के पीछे राजनितिक और प्रशासनिक साठगांठ को ही जिम्मेदार बताया जा रहा है। फेरीवालों को सड़क पर बिठाने के पीछे स्थानीय राजनेताओ का ही हाथ होता है। वे फेरीवालों से हफ्ता लेकर उनका संरक्षण करते हैं। दूसरी तरफ मनपा के लोग कार्रवाई न करने की आड़ में फेरीवालों से हफ्ता लेते हैं।

फेरीवालों पर स्थानीय नेताओं का आशीर्वाद होता है, जिसके चलते उनकी दादगीरी बढ़ जाती है और ऐसे में कुछ फेरीवाले किसी से भी लोहा लेने से पीछे नहीं हटे हैं। ठाणे मनपा सदन में फेरीवालों और अवैध निर्माणों से करोड़ों की वसूली का आरोप कांग्रेस और राकां लगा चुकी है।

राज्य के विरोधी पक्ष नेता ने की मुलाकात
राज्य विधान परिषद के विरोधी पक्ष नेता प्रवीण दरेकर, विधायक निरंजन डावखरे और संजय केलकर, नगरसेवक नारायण पवार ने भी अस्पताल में भेट दी और पिंपले तथा उनके सुरक्षा रक्षक का हालचाल लिया। सभी ने घटना को निंदनीय बताया।

दरेकर ने मामले में मकोका के अंतर्गत कार्रवाई करने की मांग की।डावखरे और केलकर ने आरोप लगाया है कि करोड़ों के हफ्ते के चलते शहर में फेरीवालों का और अवैध निर्माण का कारोबार जोरो पर फलाफूला है और इसके चलते फेरीवालों और भूमाफिया की दादगीरी बढ़ी है। भाजपा नेताओं ने फेरीवालों को संरक्षण देने वाले उनके गॉडफादर को खोजने और उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की मांग की है।


Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

भारी बारिश के कारण तालाब में तब्दील हुआ वसई-विरार... भारी बारिश के कारण तालाब में तब्दील हुआ वसई-विरार...
वसई-विरार और नालासोपारा में देर रात से जोरदार बारिश हो रही है। भारी बारिश के कारण लोग अपने घरों में...
प्रधानमंत्री की दौड़ में ऋषि सुनक की जीत के लिए ब्रिटेन में हो रही हवन, जानिए पीएम रेस में कितनी बढ़त...
एक्टर राणा दग्गुबाती ने इंस्टाग्राम को कहा अलविदा, डिलीट किए सारे पोस्ट...
BMC की 50 लाख तिरंगे बांटने की है योजना, मुंबई में हर घर लहराएगा तिरंगा...
गांव जाने से पत्नी करने लगी मना, सनकी पति ने अपनी पत्नी पर चाकू से कर दिया हमला...
महाराष्ट्र कैबिनेट की मेट्रो 3 परियोजना की लागत में बढ़ोतरी के लिए मिल सकती है मंजूरी...
सुप्रिया सुले महाराष्ट्र मंत्रिमंडल में महिलाओं को जगह न मिलने से नाखुश...

Join Us on Social Media

Videos