अमरावती की हिंसा पर बोले देवेंद्र फडणवीस, 13 तारीख का बंद एक्शन का रिएक्शन था

अमरावती की हिंसा पर बोले देवेंद्र फडणवीस, 13 तारीख का बंद एक्शन का रिएक्शन था

Rokthok Lekhani

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस आज (21 नवंबर, रविवार) अमरावती के दौरे पर हैं. उन्होंने 13 तारीख के बंद की हिंसा से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद पत्रकारों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि, ‘अमरावती में जो हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है.

लेकिन 13 तारीख को जो हुआ वह एक्शन का रिएक्शन था. उसे स्टैंड अलोन घटना के तौर पर दिखाया जा रहा है, जो गलत है. 12 तारीख को जो मोर्चा निकाला गया, वो गलत था. त्रिपुरा में जो घटना हुई नहीं, उनके मीम्स सोशल मीडिया पर बनाकर फैलाए गए. जिस मस्जिद के जलने की बातें दिखाई गईं वो मस्जिद नहीं, सीपीआईएम का ऑफिस था. कुरान जलाने की झूठी खबरें फैलाई गईं. समाज को भड़काया गया.

12 तारीख को दंगे हुए. यह योजना बना कर किया गया दंगा था. 13 तारीख की हिंसा की जांच तब तक अधूरी है जब तक 12 तारीख के मोर्चे की साजिश की जांच नहीं हो जाती. फेक न्यूज के आधार पर रैलियों की शुरुआत कैसे हुई? इसकी जांच होनी चाहिए.’
देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि, ‘राज्य सरकार वोट की राजनीति करते हुए एकतरफा कार्रवाई कर रही है. खास समाज को टारगेट किया जा रहा है.

12 तारीख की हिंसा में खास समाज के लोगों की दुकानों में तोड़फोड़ की गई. इसके बाद हमने भी 13 तारीख को बंद का आह्वान किया. 12 तारीख की हिंसा के जिम्मेदार लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है. जबकि 13 तारीख की हिंसा में जो लोग शामिल नहीं थे, उन्हें भी टारगेट किया गया. एक लड़के की मां ने बताया कि उनका बेटा यह सोच कर गाड़ी साइड में पार्क कर रहा था कि तोड़-फोड़ से उसकी गाड़ी क्षतिग्रस्त ना हो जाए.

पुलिस उसे भी पकड़ कर ले गई और 307 का केस लगा दिया. ना उसके पास हथियार थे. ना ही उसके हिंसा में शामिल होने का कोई सबूत था.अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के अधिवेशन में गए लोगों की सूची मांग कर केस दर्ज किया जा रहा है. हिंदू समर्थक संगठन से जुड़े लोगों के खिलाफ सिर्फ इसलिए कार्रवाई की जा रही है, क्योंकि वे एक विचारधारा से जुड़े हैं.’

देवेंद्र फडणवीस ने 12 तारीख को मोर्चे की इजाजत देने के लिए राज्य सरकार पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा, ‘ क्या 12 तारीख को मार्च निकालने की इजाजत थी? कितने लोग थे? अनुमति किसने दी? इसकी जांच होनी चाहिए. इस दंगे की वजह से एक खास धर्म की दुकानें जला दी गईं. 13 तारीख की घटना ,12 तारीख को हुई घटना की प्रतिक्रिया भर थी बस. 13 तारीख को अमरावती को बंद करने का ऐलान बीजेपी ने किया था, यह हम स्वीकार कर रहे हैं. हमने 13 तारीख को बंद रखा था. अगर 12 तारीख को कई लोगों को पुलिस सुरक्षा में मारा जा रहा है, तो हम चुप नहीं रहेंगे.’

राज्य सरकार पर पक्षपातपूर्ण कार्रवाई का आरोप लगाते हुए देवेंद्र फडणवीस ने जेल भरो आंदोलन करने की चेतावनी दी. उन्होंने कहा, ‘जो दोषी हैं उन पर कार्रवाई हो. इसके लिए हम पुलिस की मदद के लिए तैयार हैं. लेकिन पुलिस राजनीतिक दबाव में एकतरफा कार्रवाई कर रही है. राज्य सरकार अगर ऐसा ही चाहती है तो हम भी इसके लिए तैयार हैं. बीजेपी इसके खिलाफ अब जेल भरो आंदोलन करेगी. मैं गृह मंत्री से कहूंगा कि दबाव बनाकर एकतरफा कार्रवाई न करें.’

देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘ राहुल गांधी को पता था कि त्रिपुरा की हिंसा से जुड़ी सोशल मीडिया में जो खबरें फैलाई जा रही हैं, वे झूठी हैं. इसके बावजूद उन्होंने 8 तारीख को जानबूझ कर उन घटनाओं से जुड़ा ट्वीट किया. देश भर में दंगे भड़काने की कोशिश की जा रही है. अल्पसंख्यक समुदाय को भड़काने की कोशिश की जा रही है.

मोदीजी के विकास का सामना नहीं कर सकते तो विपक्ष के लोगों द्वारा अल्पसंख्यक समुदाय के वोटों के ध्रुवीकरण की कोशिश की जा रही है. यहां की संरक्षक मंत्री यशोमति ठाकुर वोट बैंक कम होने के डर से 12 तारीख को निकाले गए मोर्चे में हुई हिंसा पर कुछ नहीं कह रही हैं?’

जब देवेंद्र फडणवीस से यह सवाल किया गया कि 12 तारीख को हिंसा भड़काने के लिए जिम्मेदार समझी जाने वाली रज़ा अकादमी को तो बीजेपी की ही बी टीम बताया जा रहा है, इसे बीजेपी का पिल्लू कहा जा रहा है. इस पर देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘ठीक है तो हम मांग करते हैं कि रज़ा अकादमी पर बैन लगाए राज्य सरकार.

इस सरकार में है हिम्मत? आपने हमारे एक नेता का रज़ा अकादमी के लोगों के साथ फोटो दिखाया. महा विकास आघाडी के कई नेताओं के साथ रज़ा अकादमी के लोगों की तस्वीरें हैं. आपने दिखाया क्या? यह सबको पता है कि रज़ा अकादमी का किनके साथ संबंध है?


Tags:
Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

चर्च में नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म, आश्रम के फादर गिरफ्तार... चर्च में नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म, आश्रम के फादर गिरफ्तार...
सीवुड्स स्थित चर्च में तीन नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। इस मामले में...
पूर्व पुलिस आयुक्त संजय पांडे की गिरफ्तारी को लेकर मुखर होती जा रही है आवाज...
महाराष्ट्र के रायगढ़ से पूर्व विधायक विनायक मेटे की सड़क दुर्घटना में मौत...
ऑर्थर रोड जेल में मुंबई के टॉप 3 महाराष्ट्र के तीन सीनियर लीडर, कैदी नंबर 2225 हैं अनिल देशमुख, संजय राउत को मिल रही हैं ये सुविधाएं...
फिल्म में बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान के लुक्स पर बोले गिप्पी ग्रेवाल, कहा- पंजाबियों को नकली दाढ़ी पसंद नहीं..
सलमान रुश्दी पर हमले की निंदा करने वाली लेखिका जेके राउलिंग को मिली जान से मारने की धमकी...
अगस्त के महीने में लगातार छुट्टियों के कारण मुंबई-पुणे एक्सप्रेस हाईवे पर भारी जाम...

Join Us on Social Media

Videos