महाराष्ट्र में सभी विश्वविद्यालय, कॉलेज 15 फरवरी तक बंद रहेंगे, मंत्री उदय सामंत ने की घोषणा

महाराष्ट्र में सभी विश्वविद्यालय, कॉलेज 15 फरवरी तक बंद रहेंगे, मंत्री उदय सामंत ने की घोषणा

महाराष्ट्र में सभी विश्वविद्यालय और संबंधित महाविद्यालय 15 फरवरी तक बंद कर दिए गए हैं. इस बीच पढ़ाई और परीक्षाएं ऑनलाइन पद्धति से की जाएंगी. सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के हॉस्टल्स भी इस दौरान बंद रहेंगे. बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए यह फैसला किया गया है. बुधवार को एक अहम मीटिंग के बाद उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने इसकी घोषणा की.

3 अक्टूबर 2021 को राज्य सरकार ने कॉलेजों में ऑफलाइन क्लासेस शुरू करने का फैसला किया गया था. वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके विद्यार्थियों को कॉलेज आने की इजाजत दी गई थी. लेकिन पिछले कुछ दिनों से एक बार फिर कोरोना संक्रमण तेज रफ्तार से बढ़ने लगा. कोरोना के साथ ही कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का संक्रमण भी तेजी से बढ़ रहा है. इसी बात को ध्यान में रखते हुए राज्य की सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को बंद करने का फैसला किया गया.
उदय सामंत ने इस फैसले का ऐलान करते हुए बताया कि यह आदेश 15 फरवरी तक लागू होगा. यह सभी विश्वविद्यालयों समेत प्राइवेट कॉलेजों में भी लागू होगा. सिर्फ एग्रिकल्चर यूनिवर्सिटी और कॉलेज खुलेंगे. इस बीच पढ़ाई और परीक्षाएं ऑनलाइन होंगी. अगर किसी वजह से कोई स्टूडेंट एग्जाम नहीं दे पाया तो उनका साल खराब ना हो, इसके लिए वाइस चांसलरों को व्यवस्था तय करने का निर्देश दिया गया है.

गोंडवाना, नांदेड़, जलगांव यूनिवर्सिटी में इंटरनेट की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए यहां जरूरत पड़ने पर ऑफलाइन पद्धति से एग्जाम लेने की इजाजत दी गई है. कॉलेज और यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों की शिकायतों को दर्ज करने के लिए हेल्पलाइन शुरू करने का निर्देश दिया गया है.
सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के हॉस्टल इस दौरान बंद रहेंगे. लेकिन अन्य देशों के विद्यार्थियों को सभी सावधानियों का ध्यान रखते हुए होस्टल में रहने की इजाजत होगी. यूनिवर्सिटी और कॉलेज के जिन स्टूडेंट्स और कर्मचारियों का वैक्सीनेशन नहीं हुआ है उन्हें इसकी जानकारी जिलाधिकारी को देने का निर्देश दिया गया है. पॉलिटेक्निक के स्टूडेंट्स को भी जल्दी वैक्सीनेशन करवाने की सलाह दी गई है.

दसवीं की ड्राइंग परीक्षा भी ऑनलाइन पद्धति से ली जाएगी. दसवीं में ली जाने के बावजूद यह परीक्षा उच्च और तकनीकी शिक्षा विभाग के अधिकार क्षेत्र में आती है. टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ की यूूनिवर्सिटी और कॉलेजों में उपस्थिति 50 फीसदी रखे जाने का निर्देश दिया गया है. शिफ्ट रोटेट करने की सलाह दी गई है.

Tags:
Join Us on Dailyhunt
Follow us on Daily Hunt
Follow Us on Google News
Follow us on Google News
Download Android App
Download Android App

Join Us on Social Media

Post Comment

Comment List

Join Us on Social Media

Latest News

गूगल मैप पर रास्ता पूछना खतरों से खाली नहीं, नहर में घुस गई कार... गूगल मैप पर रास्ता पूछना खतरों से खाली नहीं, नहर में घुस गई कार...
गूगल मैप ऐक ऐसा प्लेटफॉर्म है जिसका उपयोग एक स्थान से दूसरे स्थान पर गाड़ी से जाने के दौरान ज्यादातर...
बुलेट ट्रेन को पूरा करने के लिए ६ हजार करोड़ रुपए की फिजूलखर्ची - नाना पटोले
प्रेमिका ने चुराई मॉल से हीरे की अंगूठी, फिर पहुंचे जेल...
8वीं बार मुख्यमंत्री बनेंगे नितीश कुमार! दोपहर 2 बजे लेंगे शपथ...
फिल्म लाल सिंह चड्ढा की रिलीज से पहले आमिर खान ने तोड़ी चुप्पी, अगर मैंने किसी का दिल...
भारी बारिश के कारण तालाब में तब्दील हुआ वसई-विरार...
प्रधानमंत्री की दौड़ में ऋषि सुनक की जीत के लिए ब्रिटेन में हो रही हवन, जानिए पीएम रेस में कितनी बढ़त...

Join Us on Social Media

Videos