CM के बयान से भडक़े श्रद्धालुओं ने किया आज से शिरडी बंद का ऐलान

शिरडी। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पाथरी को साईं बाबा का जन्मस्थान बताने से नाराज शिरडी के लोगों ने रविवार से अनिश्चितकालीन बंद की घोषणा की है। हालांकि बंद के बावजूद साईं बाबा का मंदिर और मंदिर ट्रस्ट से जुड़े साईं आश्रम खुले रहेंगे। साईं मंदिर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक मुगलीकर के मुताबिक बंद में मंदिर ट्रस्ट शामिल नहीं है।

श्रद्धालुओं को कोई परेशानी नहीं होगी। दूसरी ओर, प्रशासन ने यहां नासिक से काफी संख्या में पुलिस बल तैनात किया है। शिरडी सहित करीब 25 गांव के लोग आंदोलन कर रहे हैं। उनका कहना है कि हमें पाथरी के विकास से आपत्ति नहीं है, लेकिन उसे साईं की जन्मभूमि कहना सही नहीं है।

इससे पहले साईं बाबा और उनके माता-पिता के बारे में भी कई गलत दावे किए जा चुके हैं। जब तक मुख्यमंत्री अपने बयान को वापस नहीं लेंगे, तब तक हमारा आंदोलन जारी रहेगा। आपको बता दें कि परभणी जिले का पाथरी, शिरडी से करीब 275 किलोमीटर दूर है। मुख्यमंत्री ने 9 जनवरी को इसे साईं की जन्मभूमि बताते हुए इसके विकास के लिए 100 करोड़ रुपए का ऐलान कर दिया।

उद्धव से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी पाथरी को लेकर ऐसा ही ऐलान किया था। वर्ष 2018 में साईं समाधि शताब्दी समारोह का उद्घाटन करने पहुंचे राष्ट्रपति ने कहा था कि पाथरी सार्इं बाबा का जन्म स्थान है। मैं पाथरी के विकास के लिए काम करूंगा। उल्लेखनीय है कि सार्इं ट्रस्ट दुनिया के सबसे अमीर धार्मिक ट्रस्टों में से एक है। पिछले साल साईं दरबार में 287 करोड़ का चढ़ावा आया था। इसमें कैश के अलावा 19 किलो सोना और 392 किलो चांदी भी मिली। साल 2018 में 285 करोड़ का चढ़ावा आया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.