CAA विरोध प्रदर्शन के दौरान पत्रकार की पिटाई , मुख्यमंत्री और गृह मंत्री ने दिया सख्त कार्रवाई का भरोसा

‘मुंबई बाग’ में महिलाएं मोदी सरकार में लागू CAA कानून का विरोध कर रही हैं। गुरुवार की दोपहर इस विरोध प्रदर्शन की तस्वीर लेने पहुंचे वरिष्ठ फोटोग्राफर आशीष राजे के साथ मुंबई पुलिस ने दुर्व्यवहार किया। दो पुलिस कर्मियों ने उनकी पिटाई कर दी। इस दौरान वहां मौजूद एक व्यक्ति ने इस पूरे घटना का वीडियो बना लिया। सोशल मीडिया पर इस वीडियो को पोस्ट करते हुए मुंबई प्रेस क्लब ने घटना की निंदा की है।इस घटना की जानकारी देते हुए आशीष राजे ने कहा, “पहले उन्होंने (पुलिस) ने आईकार्ड के बारे में पूछा। मैंने कहा कि मैं आईकार्ड देता हूं।मेरे पीछे महिलाएं आ रही हैं उन्हें कुछ होना नहीं चाहिए। इससे उनको गुस्सा आ गया। वे मेरे ऊपर भड़क गए और मुझे मारना शुरू कर दिया। उनको समझा रहे थे, फिर भी वे समझने को तैयार नहीं थे। एक ऑफिसर ने कान के नीचे मारा, जैसे किसी आरोपी को मारा जाता है। और दूसरे ने लाठी से मारा।”

आशीष राजे मुंबई प्रेस क्लब के ज्वाइंट सेक्रेटरी भी हैं। उन्होंने कहा कि उनकी अंगुलियों और पैरों में चोट आयी है। एक ट्वीट में मुंबई प्रेस क्लब ने घटना का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “देखिए, मुंबई पुलिस नागपाडा प्रोस्टर साइट पर क्या कर रही है? मीडिया के साथ अपराधियों जैसा सलूक कर रही है। वर्दी वाले इन गुंडों को सजा जरूर मिलनी चाहिए।”मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने घटना का संज्ञान लेते हुए पुलिस कमीश्नर संजय बर्वे से बात की। महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी एक पत्रकार सम्मेलन में टीवी जर्नलिस्ट एसोसिएशन के द्वारा मुद्दे को उठाने के बाद कार्रवाई का वादा किया। मंत्री ने पत्रकारों को आश्वासन दिया है कि वे बर्वे इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.