जल्द से जल्द बनाएंगे महाराष्ट्र में सरकार कांग्रेस ने कहा एनसीपी के साथ बैठक के बाद

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर अभी इंतजार जारी है। बुधवार को कांग्रेस और एनसीपी नेताओं के बीच चली लंबी बातचीत के बाद भी कोई अंतिम नतीजा नहीं निकल पाया।

एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा- कांग्रेस और एनसीपी ने यह फैसला किया है कि महाराष्ट्र में एक वैकल्पिक सरकार बने। लेकिन, यह एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना के एक साथ आए बिना नहीं हो सकता है। सभी मुद्दों का समाधान करने के लिए हम बेहतर कोशिश कर रहे हैं। जल्द से जल्द में एक वैकल्पिक सरकार देंगे।

पृथ्वीराज चव्हाण बोले- जल्द बनाएंगे स्थायी सरकार

उधर, कांग्रेस और पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा- कांग्रेस और एनसीपी के बीच लंबी और सकारात्मक चर्चा हुई है। बातचीत जारी रहेगी और मैं पूरी तरह आश्वस्त हूं कि हम महाराष्ट्र में जल्द से जल्द स्थायी सरकार देने में कामयाब हो पाएंगे।

एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मुलाकात के महज कुछ घंटों बाद ही कांग्रेस नेताओं के साथ उनके आवास पर मुलाकात कर महाराष्ट्र में सरकार गठन पर चर्चा की। महाराष्ट्र में किसी भी दल के पास सरकार बनाने के लिए जरूरी आंकड़े नहीं होने के चलते वहां पर राष्ट्रपति शासन लगाया गया है।

एनसीपी-कांग्रेस नेताओँ के बीच लंबी बैठक

शरद पवार के आवास पर आयोजित इस बैठक में एनसीपी नेता सुप्रिया सुले, छगन भुजबल, अजीत पवार, और नवाब मलिक थे। जबकि, कांग्रेस की तरफ से अहमद पटेल, केसी वेणुगोपाल, पृथ्वीराज चव्हाण, बालासाहेब थोराट, जयराम रमेश समेत अन्य नेता मौजूद थे।

बीजेपी के साथ महाराष्ट्र चुनाव लड़ने वाली शिवसेना ने ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री दोनों पार्टियों से बनाने पर जोर दिया और बीजेपी पर दबाव देकर सरकार के गठन में देरी की। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 105 सीट पानेवाली बीजेपी ने शिवसेना के साथ ऐसी कोई पूर्व डील से इनकार करते हुए सरकार बनाने से मना कर दिया। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इस शिवसेना की नई मांग करार दिया और कहा कि यह पार्टी के लिए स्वीकार्य नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.