पुणे में कोटक महिंद्रा बैंक के एक कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया

पुणे:महाराष्ट्र में पुणे जिले के लोनावला में कर्ज पर निर्धारित दर से उच्च ब्याज दर वसूल करने की एक होटल व्यवसायी की शिकायत के बाद जिले की देहात पुलिस ने कोटक महिंद्रा बैंक के एक कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया है । पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी ।

शिकायतकर्ता का आरोप है कि निजी बैंक 2013 में जिस ब्याज दर पर उसे लोन दिया था, उससे उच्च दर वसूल कर रहा है ।

लोनावला थाने के पुलिस निरीक्षक सीताराम दुबल ने बताया कि होटल कारोबारी आशोक पुरोहित ने अपनी शिकायत में सात लोगों का नाम लिया है, जिसमें कोटक महिंद्रा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी उदय कोटक भी शामिल हैं हालांकि इसमें उनकी कोई भूमिका नहीं है ।

दुबल ने कहा, ‘‘शिकायतकर्ता ने 2013 में 62 लाख रुपये का लोन लिया था । उन्होंने दावा किया कि उसे 10.30 प्रतिशत की ब्याज का वादा किया गया था लेकिन बैंक 12 प्रतिशत ब्याज वसूल कर रहा है जिसके कारण उनके साथ 20 से 25 लाख रुपये की धोखाधड़ी हुयी है ।

उन्होंने बताया कि आठ मार्च को भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 467, 468 ओर 471 के तहत मामला दर्ज किया गया ।

उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में बैंक लोन विभाग के अलंकार खरे नामक व्यक्ति को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया गया और मामले की जांच की जा रही है।