महाराष्ट्र के मालेगांव में कांग्रेस को बड़ा झटका

मालेगांव: महाराष्ट्र में सत्ता पर काबिज महाविकास अघाड़ी सरकार में शामिल तीनों दलों के बीच कोई खास सामंजस्य नजर नहीं आता। इस बात को हम इस उदाहरण के जरिए आसानी समझ सकते हैं कि नासिक जिले के मालेगांव में गुरुवार को 28 कांग्रेसी नगरसेवकों ने शरद पवार की एनसीपी का दामन थाम लिया। इनमें मालेगांव की मेयर ताहिरा शेख भी शामिल हैं। इन सभी 28 पार्षदों को महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने की मौजूदगी में पार्टी में शामिल करवाया गया।

महाराष्ट्र में एक तरफ जहां नाना पटोले लगातार यह बयान देते रहते हैं कि राज्य में कांग्रेस की खोई हुई साख को वापस लाएंगे। हालांकि जिस तरह से मालेगांव के 27 पार्षदों ने कांग्रेस को राम-राम बोला है। उससे तो लगता है कि मालेगांव में स्थानीय स्तर पर पार्षदों में कांग्रेस के प्रति नाराजगी है।

कांग्रेस के पूर्व विधायक और पूर्व महापौर आसिफ शेख ने आज 28 नगरसेवकों के साथ एनसीपी में प्रवेश किया। इस दौरान राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार मौजूद थे। उनके साथ में प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटील और कैबिनेट मंत्री छगन भुजबल भी उपस्थित थे। इस दौरान अजित पवार ने इन नगरसेवकों के ना सिर्फ स्वागत किया बल्कि उनका मार्गदर्शन भी किया।
उन्होंने कहा कि आज से आप सभी राष्ट्रवादी के सैनिक हो चुके हैं और पूरी ईमानदारी के साथ पार्टी को बढ़ाने के काम में जुट जाइए। अजित पवार ने इन पार्षदों को यह भी कहा कि आप ऐसा कोई भी काम ना करें जिससे पार्टी की बदनामी हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.