फरवरी महीने के आखिर तक महाराष्ट्र पूरी तरह से अनलॉक हो जाएगा : अजित पवार

मुंबई। फरवरी महीने के आखिर तक महाराष्ट्र पूरी तरह से अनलॉक (Maharashtra complete unlock) हो जाएगा. कोरोना से जुड़े प्रतिबंधों को हटा लिया जाएगा. प्रतिबंधों में ढिलाई के संकेत महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) ने आज ( 12 फरवरी) अपने पुणे के प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिए. कोरोना संक्रमण के कम होने (Corona cases decline) की बात को ध्यान में रखते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से चर्चा के बाद इस पर जल्दी ही फैसले लिए जाएंगे. उन्होंने कहा, ‘ फिलहाल पुणे में कोरोना पॉजिटिविटी रेट 15 फीसदी है. राज्य की बात करें तो पॉजिटिविटी रेट 9 फीसदी है. ऐसे में शिवजयंती उत्सव को ध्यान में रखते हुए नियमों में शिथिलता लाने के लिए मुख्यमंत्री से बात करेंगे. 19 फरवरी को शिवनेरी किला में मनाए जाने वाले उत्सव में मैं और आदित्य ठाकरे मौजूद रहेंगे.’

आगे अजित पवार ने कहा, ‘कोवैक्सीन का स्टॉक कम है. इसलिए 15 से 18 साल की उम्र के किशोर-किशोरियों के लिए वैक्सीनेशन की रफ्तार में कमी आई है. वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार से चर्चा की जाएगी. इसके अलावा थिएटरों में फिलहाल हॉल की कैपिसिटी से 50 फीसदी लोगों की मौजूदगी की इजाजत है. लेकिन सीएम से बात कर इसमें भी शिथिलता लाई जाएगी.’ अजित पवार राज्य के उप मुख्यमंत्री होने के साथ ही पुणे के संरक्षक मंत्री भी हैं. इस नाते वे आज पुणे में कोरोना संक्रमण की स्थिति का जायजा लेने पहुंचे थे. इसके बाद वे पत्रकारों से बात कर रहे थे.

इसके अलावा अजित पवार ने कहा कि प्रतिबंधों में छूट दिए जाने के बाद भी मास्क का इस्तेमाल जारी रहेगा और कोरोना के नियमों का पालन जरूरी रहेगा. उन्होंने कहा कि थिएटर के साथ ही फिलहाल बाकी कार्यक्रमों में भी प्रतिबंध लागू हैं. विवाह सामारोहों को लेकर भी प्रतिबंध कायम हैं. हॉल में अगर कैपेसिटी दो हजार लोगों की है तो इसका पचास प्रतिशत लोगों की मौजूदगी की इजाजत का मतलब यह नहीं कि एक हजार लोग आ जाएं. अधिकतम लोगों की मौजूदगी की शर्त 200 लोगों की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.