शक के चलते गई पार्षद के पति की जान, भीड़ ने की पीट-पीटकर हत्या

महाराष्ट्र के बीड जिले में एनसीपी की एक पार्षद के पति की भीड़ ने सोमवार को कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी। भीड़ को संदेह था कि अपहरण के एक मामले में वह शिकलीगर समुदाय की मदद कर रहे हैं।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जिले के परली-वैजनाथ नगर के फुले नगर क्षेत्र में पांडुरंग गायकवाड़ (50) पर भीड़ ने तलवारों, दरांती और लाठी से हमला कर दिया। अधिकारी ने कहा, ‘सोमवार तड़के हुए हमले में गायकवाड़ गंभीर रूप से घायल हो गए । उन्हें तुरंत नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।’

पुलिस ने बताया कि हमला कथित तौर पर 16 वर्षीय लड़के के चार महीने पहले हुए अपहरण की घटना से जुड़ा है। शिकलीगर समुदाय के सदस्यों ने कथित तौर पर लड़के का अपहरण किया था क्योंकि लड़के के उनके समुदाय की एक लड़की के साथ प्रेम संबंध थे।

इस संबंध में उस समय पूर्णा पुलिस थाने में अपहरण का एक मामला दर्ज किया गया था। कुछ दिनों बाद लड़के का शव बरामद हुआ था। इस घटना से स्थानीय लोग और उसके परिवार वाले काफी क्रोधित थे।

संभाजीनगर थाने के निरीक्षक बालासाहेब पवार ने कहा, ‘भीड़ को संदेह था कि गायकवाड़ अपहरण मामले में शिकलीगर समुदाय की मदद कर रहे हैं। भीड़ में नाबालिग की मां भी शामिल थी।’ उन्होंने बताया कि दो महिलाओं सहित 11 लोगों ने गायकवाड़ पर हमला कर उसकी हत्या की। इनमें से पांच को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है।

उन्होंने बताया कि अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। शिकलीगर समुदाय के लोग पूरे राज्य में मौजूद हैं। पारम्परिक रूप से ये लोग लोहे के हथियार बनाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.