तीनों दलों में कोई मतभेद नहीं, महाविकास आघाड़ी मिलकर लड़ेगी चुनाव : बालासाहेब थोरात

Rokthok Lekhani

मुंबई : शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस की महाविकास आघाड़ी आगामी चुनाव मिलकर लड़ेंगे। राजस्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बालासाहेब थोरात ने कहा है कि राज्य में होने वाले सभी चुनाव तीनों दल मिलकर लड़ेंगे। थोरात के इस बयान से उन्ही के पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले की अलग चुनाव लड़ने की घोषणा गलत साबित हुई है। अपने विधानसभा क्षेत्र संगमनेर में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद थोरात ने कहा कि सत्ता में शामिल तीनों पार्टियों को अपनी पार्टी और संगठन को मजबूत करने का पूरा अधिकार है। इसका मतलब यह नहीं है कि महाविकास आघाडी में सबकुछ ठीक नहीं है। शिवसेना की संगठन की हुई बैठक पर थोरात ने कहा कि शिवसेना ने अलग चुनाव लड़ने की घोषणा नहीं की है। जहां तक पार्टी को मजबूत करने की बात है तो यह सभी पार्टियों का अधिकार और कर्तव्य है।

सरकार में शामिल तीनों पार्टियों के बीच विभिन्न मुद्दों पर जारी मतभेद को देखते हुए भाजपा बार-बार मध्यावधि चुनाव की बात कर रही है, के जवाब में उन्होंने कहा कि विपक्ष का काम है। जनता के बीच भ्रम फैलाना। लेकिन मैं स्पष्ट करना चाहता कि राज्य में कोई मध्यावधि चुनाव नहीं होगा। विधानसभा अध्यक्ष को लेकर थोरात ने कहा कि शिवसेना ने अध्यक्ष पद पर दावा नहीं किया है। इसलिए यह पद कांग्रेस के पास ही रहेगा। जहां तक वन विभाग का सवाल है तो यह विभाग खुद मुख्यमंत्री ने अपने पास रखा हुआ है। कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के तहत सरकार की स्थापना की गई है। इस प्रोग्राम के तहत सरकार चल रही है और आगे भी चलती रहेगी।

Click to follow us on Google News
Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt

Leave a Reply

Your email address will not be published.