अमरावती हिंसा : महाराष्ट्र में जो हिंसा हुई वो हरगिज़ नहीं होनी चाहिए थी- असदुद्दीन ओवैसी

Rokthok Lekhani

महाराष्ट्र : अमरावती हिंसा को लेकर जारी विवादों के बीच AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी इसे गलत बताया है। उन्होंने कहा है कि महाराष्ट्र में जो हिंसा हुई वो हरगिज़ नहीं होनी चाहिए थी।

उत्तर प्रदेश में लोगों को संबोधित करते हुए AIMIM नेता ने कहा कि महाराष्ट्र में जो हिंसा हुई वो हरगिज़ नहीं होनी चाहिए थी । अगर कोई हमारी भावनाओं को ठेस पहुंचाता है, होश से काम लें, पुलिस थाने जाकर शिकायत करें, मगर क़ानून को अपने हाथ में न लें।

महाराष्ट्र के अमरावती शहर में शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के बंद के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। लोगों ने पथराव कर दुकानों को क्षतिग्रस्त कर दिया था। आंदोलनकारियों ने पुलिस और पत्रकारों पर भी पथराव किया था। पुलिस ने उपद्रव के बाद आज सुबह बीजेपी नेता और पूर्व कृषि मंत्री अनिल बोंडे को गिरफ्तार किया था।

बीजेपी नेता की गिरफ्तारी के बाद राज्य में सियासत गरमा गई है। बीजेपी प्रवक्ता राम कदम ने कहा है कि महाराष्ट्र में भड़की सांप्रदायिक हिंसा के पीछे राज्‍य सरकार का हाथ है।

भाजपा नेता राम कदम ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र की भूमि पर षड्यंत्र के तहत और साजिश के तहत जो सांप्रदायिक दंगे हुए उसके पीछे पूरी तरह से महाराष्ट्र की सरकार है और वो गिरफ्तार कर रहे हैं बीजेपी नेता को, यह कैसा दोगलापन है?

कैसी विडंबना है कि शिवसेना के नेता जो घटना त्रिपुरा में घटी ही नहीं उसे घटी हुई बताकर लोगों को उकसाने वाला भाषण देते हैं तो उस पर कोई कार्रवाई नहीं होती।

Click to Read Daily E Newspaper

Download Rokthok Lekhani News Mobile App For FREE

Click to follow us on Google News
Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt

Leave a Reply

Your email address will not be published.