रिहाई के बाद चंद्रशेखर पहुंचे जामा मस्जिद, कहा- CAA के खिलाफ जारी रहेगी लड़ाई

शुक्रवार के नामाज के बाद जामा मस्जिद पर लोगों का नागरिकता संशोधन अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है। पिछले एक महीने से हर शुक्रवार को जामा मस्जिद के बाहर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस विरोध प्रदर्शन में शामिल होने के लिए भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद पहुंचे हैं।

आजाद के अलावा लोगों को कांग्रेस नेता अल्का लांबा का भी साथ मिला। रिहाई के बाद चंद्रशेखर ने रविदास मंदिर और शीशगंज गुरुद्वारे का भी दौरा किया। चंद्रशेखर ने कहा कि हमारा आंदोलन संवैधानिक रूप से जारी रहेगा जब तक की ये कानून वापस नहीं लिया जाता है। इसी के साथ भीम ऑर्मी चीफ ने कहा कि जो लोग मुल्क को बांटना चाहते हैं, हम उनके खिलाफ हैं।

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को गुरुवार की रात तिहाड़ जेल से रिहा किया गया। चंद्रशेखर को पुरानी दिल्ली के दरियागंज में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान हिंसा के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था। अधिकारियों ने आज यह जानकारी दी। आजाद के संगठन ने पुलिस की अनुमति के बगैर 20 दिसंबर को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ जामा मस्जिद से जंतर मंतर तक मार्च का आयोजन किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.