उप मुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना का असली तांडव अभी बाकी है

उप मुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना का असली तांडव अभी बाकी है. इसलिए राज्य के सभी नागरिकों को सावधानी बरतते हुए घरों में रहकर सरकारी निर्देशों का कठोरता से पालन करना आवश्यक है.

अजीत पवार ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि मुंबई ,पुणे, ठाणे, मालेगांव में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की बढ़ती संख्या चिंताजनक है. मुंबई में कल एक ही दिन में साढ़े चार सौ से अधिक कोरोना मरीजों की वृद्धि हुई है. इससे राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या साढ़े 4 हजार पार कर गई है.

राज्य में 24 मार्च से लॉकडाऊन घोषित किया गया है लेकिन कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या चिंताजनक है. मुंबई में 53 पत्रकार भी कोरोना से प्रभावित हो गए हैं. इसलिए कहा नहीं जा सकता कि कोरोना कहां तक पहुंचेगा. इतनी खराब स्थिति में भी लोग अनायास सड़कों पर निकल रहे हैं, इससे राज्य के नागरिक अनजाने में खुद व अपने परिवार के जीवन को धोखे में डाल रहे हैं. अपने परिवार के लोगों को घर में रहने की जिम्मेदारी उस घर की महिलाओं और बच्चों को लेनी चाहिए.

अजीत पवार ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री, राज्य के मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, डॉक्टर, पुलिस सबने लोगों को घर में रहने की अपील की है. यह अपील लोगों को सुरक्षित रहने के लिए की गई है. इसलिए सूबे के सभी नागरिकों को घर में रहकर वल्र्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन की ओर से व्यक्त की गई आशंका को झुठलाने का प्रयास करना चाहिए.

अजीत पवार ने कहा कि अगर राज्य के नागरिकों ने सरकारी निर्देशों को सही तरीके से पालन किया तो निश्चित ही हम कोरोना को पराजित करने में सफल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.