शिक्षा मंत्री का फैसला यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए सभी स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का आदेश दिया

मुंबई : महाराष्ट्र की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए सभी स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का आदेश दिया. स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने विधान परिषद में कहा कि राज्य में लगभग 65,000 स्कूल हैं, जिनमें राज्य द्वारा संचालित, वित्त पोषित, निजी और विभिन्न शिक्षा बोर्डों से जुड़े स्कूल शामिल हैं. “इन सभी स्कूलों को सीसीटीवी कैमरे लगाने चाहिए, ताकि स्कूलों में यौन उत्पीड़न पर लगाम लगाई जा सके.

शिक्षा मंत्री ने कहा कि हम स्कूलों के लिए हार्ड-ड्राइव के साथ सीसीटीवी कैमरों को लगवाना अनिवार्य करेंगे. साथ ही इस काम में सहायता भी का जाएगी, ताकि रोजाना की गतिविधियों की फुटेज को रिकॉर्ड किया जा सके और जांच के लिए जरूरत पड़ने पर फुटेज उपलब्ध कराई जा सके.

महाराष्ट्र की मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि स्कूलों को ‘सखी सावित्री’ समिति का गठन करना होगा. जिसमें स्कूल की मर्यादा बनाए रखने के लिए प्रिंसिपल, महिला शिक्षक, डॉक्टर, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, पुरुष और महिला छात्र शामिल हों. वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि अगर जरूरत पड़े तो प्रिंसिपल, महिला शिक्षक जांच भी करें. उन्होंने कहा कि जो भी समिति बनाई जाए उसके सदस्यों के नाम स्कूलों में प्रमुखता से प्रदर्शित होने चाहिए. गायकवाड़ ने कहा कि स्कूल शिक्षा आयुक्त इन समितियों के कामकाज की देखरेख करेंगे.