JNU छात्रों को HC से मिली बड़ी राहत, पुरानी फीस पर ही होगा रजिस्ट्रेशन

जेएनयू छात्रसंघ ने विश्वविद्यालय प्रशासन के हॉस्टल फीस बढ़ोतरी के फैसले के खिलाफ दिल्ली की उच्च नयायालय में याचिका दायर की थी, उस पर आज सुनवाई हुई। जिस पर उच्च न्यायालय ने छात्रों को बड़ी राहत देते हुए आदेश दिया कि छात्रों को फिलहाल पुरानी फीस के आधार पर ही रजिस्ट्रेशन करने की इजाजत दी जाए। अदालत ने कहा कि इन छात्रों से किसी भी तरह की लेट फीस भी नहीं ली जाएगी।

अदालत में जेएनयू छात्र संगठन के वकील कपिल सिब्बल ने फीस में बढ़ोतरी को गैर कानूनी बताते हुए कहा कि कुछ बच्चे जो बढ़ी हुई फीस जमा कर रहे हैं, वह विश्वविद्यालय प्रशासन के डर से कर रहे हैं क्योंकि प्रशासन ने उनसे कहा है कि अगर वो बढ़ी हुई फीस नहीं भरते तो उनकी सेवाएं वापस ले ली जाएंगी। इस पर कोर्ट ने छात्रों को अंतरिम राहत देते हुए फैसला सुनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.