लोकसभा स्पीकर ने प्रज्ञा के बयान पर बहस कराने से इनकार किया, कांग्रेस सांसदों का सदन से वॉकआउट

नई दिल्ली : प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर गुरुवार को लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने इस पर स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देते हुए चर्चा की मांग की। हालांकि, स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि प्रज्ञा का बयान रिकॉर्ड से निकलवा दिया गया है, ऐसे में इस पर चर्चा नहीं की जा सकती। इस पर कांग्रेस सांसदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। इससे पहले लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि गोडसे को देशभक्त मानने की सोच को ही हम खारिज करते हैं। कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने उनकी पार्टी को आतंकी पार्टी कहा था। यह वही पार्टी है जिसके नेताओं ने देश की आजादी के लिए बलिदान दिए। यहां हो क्या रहा है। क्या सदन इस पर चुप बैठेगा। महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त कहा जा रहा है। प्रज्ञा ठाकुर गांधी जी की दुश्मन हैं: ओवैसी एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर कहा, “यह पहली बार नहीं है जब उन्होंने इस तरह की बातें कही है। उनके बयान से स्पष्ट है कि वह गांधी जी की दुश्मन है और उनके हत्यारे का समर्थक। मैं स्पीकर महोदय को विशेषाधिकार प्रस्ताव सौंपा हूं। आगे देखते हैं क्या होता है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.