महाराष्ट्र कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष नाना पटोले ने NCP पर लगाया कांग्रेस को कमजोर करने का आरोप

Rokthok Lekhani

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में मह विकास आघाड़ी (एमवीए) गठबंधन में सब कुछ ठीक नहीं है। अकसर विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आरोप लगता है कि वो एमवीए के खिलाफ साजिश कर इस गठबंधन को तोड़ने की कोशिश करती रहती है। ऐसे में महाराष्ट्र कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष नाना पटोले ने सोमवार को कहा कि उन्होंने शरद पवार नीत राकांपा द्वारा राज्य में कांग्रेस पार्टी को कथित तौर पर कमजोर करने संबंधी हालिया राजनीतिक कदमों के बारे में पार्टी आलाकमान को सूचित किया है। गौरतलब है कि नवंबर 2019 में महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार बनाने के लिए कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने शिवसेना से हाथ मिलाया था।

शिवसेना ने भाजपा के साथ गठबंधन तोड़कर कांग्रेस, राकांपा के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। नागपुर हवाई अड्डे पर संवाददाताओं के सवाल पर पटोले ने कहा कि ऐसा जान पड़ता है कि पिछले ढाई वर्षों से राकांपा महाराष्ट्र में कांग्रेस को ”कमजोर” करने का प्रयास कर रही है।
कांग्रेस नेता ने दावा किया कि यहां तक कि जिला परिषद और अन्य नगर निकायों के कांग्रेस जनप्रतिनिधियों को विकास कार्यों के लिए पर्याप्त कोष नहीं मिल पा रहा। पटोले ने कहा कि भिवंडी-निजामपुर नगर निगम के 19 कांग्रेसी पार्षद राकांपा में शामिल हो गए। उन्होंने दावा किया कि इस महीने की शुरुआत में राकांपा ने गोंदिया जिला परिषद का अध्यक्ष चुनने के लिए प्रतिद्वंद्वी भाजपा से हाथ मिला लिया।

पटोले ने कहा कि उदयपुर में आयोजित पार्टी के चिंतन शिविर में इन सभी चीजों के बारे में कांग्रेस आलाकमान को सूचित किया गया। यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस के नये अध्यक्ष के चयन को लेकर चिंतन शिविर में कोई चर्चा हुई? पटोले ने कहा कि पार्टी के आंतरिक चुनाव शुरू हो गए हैं। पटोले ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया अगस्त या सितंबर में होने की उम्मीद है। उन्होंने दावा किया कि पार्टी कार्यकर्ता राहुल गांधी को कांग्रेस प्रमुख के रूप में देखना चाहते हैं।

Click to Read Daily E Newspaper

Download Rokthok Lekhani News Mobile App For FREE

Click to follow us on Google News
Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt