मुंबई फिर बेहाल, भारी बारिश के बीच मिट्टी धंसने से 11 की मौत, 6 से 8 और लोग हो सकते हैं दबे

Rokthok Lekhani

मुंबई : मुंबई में भारी बारिश ने एक बार फिर से मायानगरी की रफ्तार रोक दी है। मुंबई में रात से ही भारी बारिश हो रही है, जिसकी वजह से चारों तरफ जलसैलाब सा नजारा देखने को मिल रहा है। सड़कों-गलियों से लेकर रेलवे ट्रैकों पर जलजमाव है और घुटनों तक पानी भर आया है। मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबई के हनुमान नगर से लेकर कांदीवली इलाके में लोगों के घरों तक में पानी घुस गया है। सुबह-सुबह मुंबई वालों को जलसैलाब की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

मुंबई और उसके आसपास के इलाकों में रातभर में जलजमाव हो गया। गांधी मार्केट इलाके में भी भयंकर जलभराव दिखा, जिससे गाड़ियों की आवाजाही भी प्रभावित हुई। वहीं, मुंबई के सियोन रेलवे स्टेशन का रेलवे ट्रैक पूरी तरह से पानी से भर गया है। सियोन इलाके में मुख्य मार्ग पर कमर तक पानी भर आया है। बारिश की पानी की वजह से आज सुबह लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। माना जा रहा है कि मुंबई में आज भी बारिश जारी रहेगी।

वहीं, मुंबई के अलावा, देश के अन्य हिस्सों के मौसम की बात करें तो हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश को छोड़कर उत्तर भारत के अधिकांश मैदानी इलाकों में अगले कुछ दिनों में इस क्षेत्र में भारी बारिश होने की संभावना है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश व गरज के साथ बूंदाबांदी देखी गई वहीं हिमाचल प्रदेश में मौसम कार्यालय ने अगले तीन-चार दिनों में भारी बारिश की भविष्यवाणी के साथ भूस्खलन की चेतावनी जारी की।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार दोपहर और शाम को दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की भविष्यवाणी की। मौसम विज्ञानी ने कहा कि शहर के अधिकांश हिस्सों में मुख्य तौर पर बादल छाए रहने व गरज के साथ बूंदाबांदी होने संभावना है और अधिकतम व न्यूनतम तापमान क्रमश: 35 और 27 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मौसम कार्यालय ने कहा कि राज्य में छिटपुट स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बूंदाबांदी हुई। सिद्धार्थ नगर, महाराजगंज, बहराइच, सीतापुर, गोरखपुर और शाहजहांपुर में बारिश दर्ज की गई। मौसम कार्यालय ने कहा कि रविवार को राज्य के अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बूंदाबांदी और 19 जुलाई व 20 जुलाई को अधिकांश स्थानों पर बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

शिमला स्थित मौसम केंद्र ने कहा कि मौसम की हालिया परिस्थिति और अलग-अलग वैश्विक एवं क्षेत्रीय मॉडल के विश्लेषण से संकेत मिला है कि शनिवार से हिमाचल प्रदेश में बारिश की गति बढ़ेगी और अगले-तीन से चार दिन में निचले और मध्य पहाड़ी इलाकों में सामान्य से भारी बारिश होगी।

वहीं भारी बारिश की वजह से चेम्बूर के भारत नगर इलाके में लैंडस्लाइड हो गया है. इसकी चपेट में 4-5 घर आ गए हैं और कई लोग मलबे में दब गए हैं. घटना के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया. एनडीआरएफ (NDRF) की टीम ने 11 शवों को मलबे से निकाला है. इनमें एक महिला की बॉडी भी शामिल है. बताया जा रहा है कि अभी मलबे में 6 से 8 और लोग दबे हो सकते हैं.

बता दें कि मुंबई के विक्रोली इलाके में भी भारी बारिश की वजह से एक मकान ढह गया है. यहां 5 लोगों की मौत हो गई है. मौके पर राहत और बचाव कार्य जारी है. दादर, परेल, सियोन और कुर्ला स्टेशनों पर भारी बारिश के कारण जलजमाव की वजह से सीएसटी और ठाणे के बीच में ट्रेन नहीं चल रही है. इसी तरह हार्बर लाइन पर भी वाशी और पनवेल के बीच में ट्रेन की आवाजाही ठप है.

Click to follow us on Google News
Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt

Leave a Reply

Your email address will not be published.