बीएमसी कमिश्नर अजॉय मेहता बने महाराष्ट्र के नए मुख्य सचिव

मुंबई: बीएमसी कमिश्नर (BMC commissioner) अजॉय मेहता महाराष्ट्र के नए मुख्य सचिव (Chief Secretary) होंगे. वर्तमान मुख्य सचिव यूपीएस मदान अब मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के विशेष सलाहकार होंगे. देश में चल रहे लोकसभा चुनावों के कारण चुनाव आचार संहिता लागू होने के साथ ही मेहता की नियुक्ति को चुनाव आयोग ने मंजूरी दी है. अजॉय मेहता 1984 बैच के IAS ऑफिसर हैं. मेहता इस साल सितंबर में रिटायर होंगे.

अजॉय मेहता के मुख्य सचिव बनने के बाद बीएमसी कमिश्नर का पद खाली हो गया. माना जा रहा है कि इस पद पर जल्द की नियुक्ति की जाएगी. मानसून सीजन निकट होने के कारण इस पद पर जल्द नियुक्ति होना भी अनिवार्य है.

गौरतलब है कि अजॉय मेहता का विवादों से पुराना नाता रहा है. इससे पहले मुंबई कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष संजय निरुपम ने उनपर घोटालों का आरोप लगाया था. निरुपम ने अपने बयान में कहा था कि अजोय मेहता जब ऊर्जा विभाग में पदस्थ थे तब उन पर घोटाले के कई आरोप लगे थे.

निरुपम ने यह भी कहा था कि अजॉय मेहता पर 4,372 करोड़ रुपये के बिजली घोटाले का आरोप है. इसके अलावा 2 लाख बिजली मीटर की खरीद में भी उन पर घोटाले के आरोप लगे हैं. इतना ही नहीं एमएसईडीसी के संचालक पद पर आसीन रहते हुए मेहता ने सरकार की इजाजत के बिना 10 बार विदेश दौरे किए हैं, यह भी एक गंभीर गुनाह है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.