कॉल गर्ल्स रैकेट संचालकों पर मुंबई पुलिस की निगाहें टेढ़ी

कॉल गर्ल्स रैकेट संचालकों पर मुंबई पुलिस की निगाहें टेढ़ी

एम.आई.आलम
अवैध और अनैतिक घन्धों की रोकथाम के लिये मुंबई पुलिस ने पूरी तरह से कमर कसी हुई है। महानगर मे चलने वाले कॉल गर्ल्स रैकेट संचालकों का तिलिस्म ध्वस्त करने के लिये पिछले पूरे माह पुलिस ने विशेष अभियान चलाया। जिसका सुखद परिणाम भी मुंबई पुलिस को मिला। मुंबई पुलिस की अलग अलग टीमों ने पिछले अगस्त माह में अलग अलग जगहों पर छापेमारी कर अनेक कॉल गर्ल्स रैकेट पकड़ कई विदेशी लड़कियों समेत 50 से अधिक लड़कियों को मुक्त कराया। पुलिस विभाग की इस धरपकड़ से सेक्स रैकेट चलाने वालों में अफरातफरी मच गई है।
पिछले माह की दस अगस्त को चारकोप पुलिस ठाणे की हद से क्राइम ब्रानच यूनिट 11 ने एक महिला को गिरफ्तार किया था जो सोशल मीडिया के माध्यम से सेक्स रैकेट का संचालन कर रही थी। क्राइम ब्रान्च को खुफिया सूचना मिलने के बाद डमी ग्राहक के माध्यम से इस 51 वर्षीय महिला पर शिकंजा कसा। पुलिस ने उस महिला के चुंगल से 5 लड़कियों को मुक्त कराया।
17 अगस्त को विले पार्ले में द थाई विला स्पा की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर 18 लड़कियों को छुडा़या। इस स्पा का उदघाटन फिल्म अभिनेत्री रविना टंडन ने किया था। क्राइम ब्रान्च यूनिट 9 के पुलिस निरीक्षक कोराके के नेत्त्व में यह पूरी कारवाई की। पकड़ी गई लड़कियों में 6 थाई लड़कियां थीं।
18 अगस्त को मुलुंड से एक 26 वर्षीय युवक पवन पांडेय को अरेस्ट किया पवन पांडेय भी स्पा की आड़ में वेश्यावृत्ति का धंधा करता था। पवन के कब्ज़े से 5 लड़कियों को छुड़ाया गया।
इसी प्रकार पिछले बुधवार को मुंबई पुलिस की सामाजिक सेवा शाखा ने मानव तसकरी रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए कुल 16 लड़कियों के छुड़ाया जिनमें से कुल 11 लड़कियां बंगलादेशी थीं। यह पूरा मामला एक कॉलगर्ल के माध्यम से ही पुलिस की समाजसेवा शाखा के संज्ञान में आया। इस पूरे मामले मे यह बात खुलकर सामने आयी कि एक पूरा गिरोह है जो बंगलादेश की गरीब परिवार की लड़कियों को नौकरी दिलाने के बहाने अवैध रूप से मुंबई में लाते हैं और सेक्स रैकेट चलाने वाले गिरोहों के हाथ बेच देते है।
समाजसेवा शाखा की वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शुभा राउल ने अपनी टीम के साथ छापेमारी करते हुए शुक्रवार को अंधेरी के लोखण्डवाला के एक पॉश इलाके से एक रशियन लड़की समेत कुल दो लड़़कियों को सेक्स रैकेट संचालकों से मुक्त कराया तो शनीवार को क्राइम ब्रान्च युनिट 11 ने मालाड के मालोनी न0 8 पर छापेमारी करते हुए 2 लड़कियों को छुड़ाया।
इन सभी मामलों में अनेक सेक्स रैकेट संचालक, लड़कियों के दलाल पुलिस के चुंगल में आये। पुलिस की इस तड़ातड़ कारवाई के बाद इस धंधे से जुड़े लोगों में भयंकर खलबली मची हुई है। तो दूसरी तरफ शहर की विभिन्न समाजसेवी संस्थाएं पुलिस विभाग की इस तड़ातड़ कारवाई के लिये पुलिस विभाग की प्रशंसा कर रहे हैं।

Rokthok Lekhani

Rokthok Lekhani Newspaper is National Daily Hindi Newspaper , One of the Leading Hindi Newspaper in Mumbai. Millions of Digital Readers Across Mumbai, Maharashtra, India . Read Daily E Newspaper on Jio News App , Magzter App , Paper Boy App , Paytm App etc

Leave a Reply