पंकजा मुंडे बोलीं- मुंडे साहब ने हमें मंत्री बनाने के लिए राजनीति में नहीं लाए

Rokthok Lekhani

मुंबई : केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार में प्रीतम मुंडे को जगह नहीं मिलने से उनके समर्थक नाराज हो गए हैं। जिसके बाद कई नेताओं ने इस्तीफा भी देना शुरू कर दिया है। इसी को लेकर मंगलवार को भाजपा राष्ट्रीय सचिव पंकजा मुंडे सभी समर्थकों का इस्तीफा नामंजूर करते हुए कहा कि,मुंडे साहब ने हमें मंत्री बनाने के लिए राजनीति में नहीं लाए। पीएम मोदी और अमित शाह हमारे नेता हैं।

आयोजित पत्रकार वार्ता में मुंडे ने कहा, मैं राष्ट्रीय स्तर पर काम करती हूं। मेरे नेता नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा हैं। मैंने आज अपने कार्यकर्ताओं से बात की क्योंकि हमारे कई लोगों ने इस्तीफे की पेशकश की थी क्योंकि उनका मानना था कि हमें हाल ही में कैबिनेट विस्तार में जगह मिलती है।

उन्होंने कहा, मुंडे साहब (गोपीनाथ मुंडे) ने हमेशा समाज के निचले तबके के लोगों को उच्च पद दिया। उन्होंने मुझे और प्रीतम को मंत्री बनने के लिए राजनीति में नहीं लाया। जब उनका निधन हो गया, तो महाराष्ट्र बीजेपी ने मुझे मंत्री पद की पेशकश की लेकिन मैंने मना कर दिया। प्रीतम और मुझे इसकी कोई इच्छा नहीं है।

भाजपा नेता ने कहा, मैं सभी के इस्तीफे को खारिज करती हूं। क्या मैंने आपको इस्तीफा देने के लिए कहा था? नहीं, मैं नहीं चाहती कि लोग मेरे लिए बलिदान करें। मैं इस धर्म युद्ध में नहीं पड़ना चाहती। मुझे खुशी है कि मेरे समुदाय के एक व्यक्ति (भागवत कराड) को मंत्री पद दिया गया।

ज्ञात हो कि, पिछले दिनों हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार में बीड से सांसद प्रीतम मुंडे को मंत्री बनाने की चर्चा शुरू थी। लेकिन प्रीतम की जगह उन्हीं के बंजारा समाज से भागवत कराड को मंत्री बनाया गया है। भाजपा के इस निर्णय से मुंडे समर्थक नाराज हो गए हैं। अभी तक करीब 70 समर्थकों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

Click to follow us on Google News
Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt

Leave a Reply

Your email address will not be published.