वकील गुणरत्न सदावर्ते को हिरासत में लेने मुंबई पहुंची सातारा पुलिस

मुंबई:सातारा पुलिस का एक दल 2020 में मराठा आरक्षण से जुड़े प्रदर्शनों के दौरान कथित तौर पर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किए जाने के मामले में वकील गुणरत्न सदावर्ते की हिरासत की मांग करने के लिए मुंबई पहुंचा है। एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी।

महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) के प्रदर्शनरत कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करने वाले सदावर्ते को मुंबई पुलिस ने कई एमएसआरटीसी कर्मचारियों के साथ पिछले सप्ताह गिरफ्तार किया था। उन्होंने यहां राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार के आवास के बाहर प्रदर्शन किया था, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था।

अधिकारी ने बताया कि सातारा में एक व्यक्ति ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया कि सदावर्ते ने 2020 में मराठा आरक्षण आंदोलन के दौरान एक टीवी चैनल पर आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था।

शिकायत के आधार पर सातारा पुलिस ने सदावर्ते के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की थी।
वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भगवान निम्बालकर की अगुवाई में सातारा पुलिस का एक दल मामले में सदावर्ते की हिरासत मांगने के लिए मुंबई पहुंच गया है। मुंबई पुलिस को मिली सदावर्ते की हिरासत की अवधि बुधवार को खत्म हो रही है।