शरद पवार ने चुनौतीभरे लहजे में कहा कि यह गोवा नहीं, महाराष्ट्र है.. फ्लोर टेस्ट के दिन मैं 162 से ज्यादा विधायक लेकर आऊंगा

महाराष्ट्र में सियासी पारा इस समां अपने चरम पर है। महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से एक दिन पहले सोमवार को राकांपा, कांग्रेस और शिवसेना ने मंुबई के होटल ग्रैंड हयात में शक्ति प्रदर्शन किया। होटल में विपक्ष के 162 विधायकों के बीच राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, उनकी बेटी सुप्रिया सुले, छगन भुजबल, शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, बेटे आदित्य ठाकरे, कांग्रेस नेता अशोक चह्वाण, मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे दिग्गज मौजूद थे।

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के मुंबई वापस लौटने के बाद अब तीनों दल और इस गठबंधन का समर्थन कर रहे कुल 162 विधायकों की होटल हयात में मीडिया के सामने परेड हुई। विधायकों को सोनिया गांधी, शरद पवार और उद्धव ठाकरे का नाम लेकर संविधान की शपथ दिलाई गई कि वह भाजपा का समर्थन नहीं करेंगे। शरद पवार ने चुनौतीभरे लहजे में कहा कि यह गोवा नहीं, महाराष्ट्र है.. फ्लोर टेस्ट के दिन मैं 162 से ज्यादा विधायक लेकर आऊंगा। उद्धव ने कहा कि हम लोग केवल 5 साल के लिए सरकार में नहीं आ रहे हैं, हम 25-30 साल के लिए आ रहे हैं। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि पहली बार 162 विधायक एक साथ नजर आएंगे। राज्यपाल चाहें तो आकर यहां देख लें। विधायकों की परेड से पहले मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बैठक ली, लेकिन बैठक में डिप्टी सीएम अजित पवार की कुर्सी खाली दिखाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.