संजय राउत के सावरकर वाले बयान से शिवसेना का किनारा

मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत के बयान से शिवसेना ने किनारा कर लिया है। महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे ने साफ कहा है कि संजय राउत के बयान से गठबंधन सरकार की मजबूती पर कोई असर नहीं पडे़गा। राउत के बयान पर शिवसेना डैमेज कंट्रोल मोड में आ गई है। पार्टी नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे ने राउत के बयान से किनारा करते हुए कहा कि उन्होंने इसपर सफाई देते हुए इससे गठबंधन पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

आदित्य ठाकरे ने कहा कि संजय राउत ने जिस संदर्भ में बयान दिया है, उन्होंने साफ कर दिया है। शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी एलायंस मजबूत है और हमलोग राज्य के विकास के लिए साथ आए हैं। हमलोगों के बीच कुछ मुद्दों पर मतभेद हो सकते हैं, लेकिन यही तो लोकतंत्र है। बावजूद हमलोगों को वर्तमान मसलों पर बातचीत करने की आवश्यता है।

आपको बताते जाए कि शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा था कि वीर सावरकर के योगदान के बारे में किसी को तब ही पता चल सकता है जब उसे अंडमान-निकोबार की उसी जेल में दो दिन के लिए डाल दिया जाए, जहां सावरकर को रखा गया था। उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र कांग्रेस के सीनियर नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने एक दिन पहले ही यह बयान दिया था कि नरेंद्र मोदी सरकार अगर सावरकर को भारत रत्न देती है तो इसका विरोध किया जाएगा। इसको ध्यान में रखकर संजय राउत ने अपना बयान दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.