ठाणे पुलिस ने 50 लोगों से कथित तौर पर 10 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में आठ लोगों को गिरफ्तार किया

ठाणे : ठाणे पुलिस ने महाराष्ट्र और देश के अन्य राज्यों में कम से कम 50 लोगों से कथित तौर पर 10 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। कल्याण संभाग के मनपाड़ा थाना के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शेखर बागड़े ने बताया कि गुजरात का रहने वाला एक आरोपी अन्य आरोपियों को बड़ी जमाराशि वाले खाताधारकों की जानकारी देता था, ताकि उन्हें निशाना बनाया जा सके।

उन्होंने कहा कि इसके बाद वे एक लैपटॉप और एक प्रिंटर का उपयोग करके फर्जी चेक जेनरेट करते और पीड़ितों के खातों से पैसे निकालने के लिए बैंकों को भेजते थे। कल्याण संभाग के मनपाड़ा थाना के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शेखर बागड़े ने बताया कि गुजरात का रहने वाला एक आरोपी अन्य आरोपियों को बड़ी जमाराशि वाले खाताधारकों की जानकारी देता था, ताकि उन्हें निशाना बनाया जा सके।

उन्होंने कहा कि इसके बाद वे एक लैपटॉप और एक प्रिंटर का उपयोग करके फर्जी चेक जेनरेट करते और पीड़ितों के खातों से पैसे निकालने के लिए बैंकों को भेजते थे। आठ आरोपियों में से कुछ को हाल में तब पकड़ा गया जब उन्होंने ठाणे जिला के मनपाड़ा इलाके के एक बैंक में 34 करोड़ रुपये का चेक मंजूरी के लिए दिया। अधिकारी ने बताया कि बाद में पुलिस ने उनके अन्य साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया।

उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि आरोपियों ने महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु और कर्नाटक के लोगों को ठगा है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान हरिश्चंद्र कडवे, नितिन शेलार, अशोक चौधरी, मजहर उर्फ ​​मुजाहिद मोहम्मद हुसैन खान, उमर फारूक, सचिन सालस्कर, ए. अनिल ओटारी (सभी महाराष्ट्र से) और भावेशकुमार ढोलकिया (गुजरात के भावनगर से) के रूप में हुई है। अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है और इस बात की जांच की जा रही है कि क्या उन्होंने और लोगों को भी ठगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.