महाराष्ट्र विधानसभा के 22 से 28 दिसंबर के बीच होने वाले शीतकालीन सत्र के काफी हंगामेदार रहने की आशंका

मुंबई : महाराष्ट्र विधानसभा के 22 से 28 दिसंबर के बीच होने वाले शीतकालीन सत्र के काफी हंगामेदार रहने की आशंका है, क्योंकि विपक्षी भाजपा ओबीसी आरक्षण गतिरोध, एमएसआरटीसी कर्मियों की चल रही हड़ताल, पूर्व मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी सहित कई मुद्दों पर शिवसेना के नेतृत्व वाली राज्य सरकार को घेर सकती है।

मराठा कोटा मुद्दा, ओमीक्रोन स्वरूप के मद्देनजर कोविड-19 प्रबंधन, ड्रग्स मामले में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी समेत कई मुद्दों के विधायिका के दोनों सदनों में छाए रहने की संभावना है। महाराष्ट्र में शीतकालीन सत्र आमतौर पर राज्य की दूसरी राजधानी नागपुर में आयोजित किया जाता है, लेकिन यह महामारी के कारण लगातार दूसरी बार मुंबई में आयोजित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.