अवैध वसूली के चक्कर में युवक ने किया था मर्डर, 4 साल से वांछित बदमाश गिरफ्तार

Rokthok Lekhani

मुंबई : मुंबई में अवैध वसूली के चक्कर में चार साल पहले मर्डर करने वाले बदमाश को शुक्रवार को UP-STF ने वाराणसी से गिरफ्तार किया। कैंट रेलवे स्टेशन के समीप से गिरफ्तार किए गए बदमाश की शिनाख्त जौनपुर जिले के सुजानगंज थाना के धारीकापुर गांव निवासी सचिन उपाध्याय के तौर पर हुई है। आरोपी सचिन को कैंट थाने की पुलिस को सौंपा गया है। मुंबई पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर उसे अपने साथ ले जाएगी।

UP-STF की वाराणसी इकाई के एडिशनल एसपी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि 8 नवंबर 2018 को मुंबई में गोराई नाका मारूती चाल संतोष भवन नाला सोपारा में अजय जायसवाल की कबाड़ के दुकान के पास राजबहादुर पटेल की हत्या की गई थी। राजबहादुर पटेल गोराई नाका मारूती चाल रूम नंबर-31 संतोष भवन नाला सोपारा, जिला – पालघर, मुंबई का रहने वाला था।

इस संबंध में थाना तुलिंज मीरा भायेंदर वसई विरार में मुकदमा दर्ज हुआ था। विवेचना में बदमाश सचिन उपाध्याय का नाम सामने आया था। सचिन के वाराणसी और उसके आसपास छुपे होने की सूचना मिलने पर इस संबंध में भायेंदर क्राइम ब्रांच द्वारा UP-STF से सहयोग मांगा गया था। एडिशनल एसपी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि फील्ड इकाई वाराणसी के इंस्पेक्टर अनिल कुमार सिंह के नेतृत्व में एक टीम अभिसूचना संकलन की कार्रवाई के लिए लगाई गई थी। अभिसूचना संकलन के दौरान विश्वस्त सूत्र से प्राप्त सूचना के आधार पर आज कैंट स्टेशन के समीप से गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ में सचिन ने बताया कि वह बचपन से अपने मां-बाप के साथ मुंबई में रहता था। 20 साल की उम्र में उसे मुंबई में भाईगीरी करने का शौक हो गया था। जिसके कारण वह वाहन स्टैंड पर वाहन खड़ा करने वाले ड्राइवरों से अवैध तरीके से पैसा वसूलने का काम करने लगा। उसी दौरान राजबहादुर पटेल से पैसा मांगने पर उसके द्वारा इंकार करने के बाद दोनों के बीच विवाद हुआ था। उसके बाद राजबहादुर पटेल की हत्या कर दी गई। हत्या करने बाद से ही वह मुंबई से भाग गया था। तभी से वह जौनपुर और आसपास के जिलों में छुप कर रह रहा था।

Click to Read Daily E Newspaper

Download Rokthok Lekhani News Mobile App For FREE

Click to follow us on Google News
Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt