मुंबई में माटुंगा स्टेशन पर तीन डिब्बे पटरी से उतर गए

मुंबई:मुंबई में माटुंगा स्टेशन पर शुक्रवार रात दादर-पुडुचेरी एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 11005 के तीन कोच तब पटरी से उतर गए जब सीएसएमटी-गडग एक्सप्रेस के इंजन ने उसे पीछे से टक्कर मार दी। यह जानकारी मध्य रेल के एक अधिकारी ने दी।

अधिकारी ने बताया कि यह घटना रात करीब पौने 10 बजे हुई और इसमें किसी के घायल होने की अभी कोई सूचना नहीं है। यह घटना भारत में एक यात्री ट्रेन के पहली बार चलने की 169वीं वर्षगांठ से एक दिन पहले हुई है।

अधिकारी ने बताया कि दादर-पुडुचेरी चालुक्य एक्सप्रेस दादर टर्मिनस के प्लेटफॉर्म 7 से डाउन फास्ट लाइन पर प्रवेश कर रही थी, तभी रात करीब साढ़े नौ बजे रवाना हुई सीएसएमटी-गडग एक्सप्रेस ने उसे एक क्रॉसिंग पर पीछे से टक्कर मार दी।

घटना का एक वीडियो जो सोशल मीडिया पर प्रसारित हुआ है और उसमें दिख रहा है कि पटरी से उतरने से पहले दो एक्सप्रेस ट्रेन के डिब्बे आपस में भिड़ गए। ऐसा होने पर कुछ यात्रियों को एक दूसरे को सचेत करते हुए भी सुना जा सकता है।

मध्य रेल के मुख्य प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने कहा कि राहत ट्रेन को घटनास्थल पर भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि अप और डाउन स्लो लाइन पर यातायात को सुरक्षा कारणों से कुछ समय के लिए रोक दिया गया था लेकिन उसे अब बहाल कर दिया गया है। राजकीय रेलवे पुलिस के आयुक्त, कैसर खालिद ने एक ट्वीट में कहा कि दो डाउन ट्रेन के बीच ‘‘मामूली टक्कर’’ हुई थी और पुडुचेरी एक्सप्रेस को खाली कराया जा रहा है।

इस महीने मध्य रेल खंड पर यह दूसरी दुर्घटना है। इससे पहले, लोकमान्य तिलक-जयनगर एक्सप्रेस (पवन एक्सप्रेस) 3 अप्रैल, 2022 को महाराष्ट्र के नासिक के पास पटरी से उतर गई थी। यह घटना भारत में रेलवे की 169वीं वर्षगांठ से एक दिन पहले हुई है। भारत (और एशिया) में पहली यात्री ट्रेन 16 अप्रैल, 1853 को मुंबई और ठाणे के बीच चली थी। इस तरह भारतीय रेलवे शनिवार से अपनी सेवा के 170वें वर्ष में प्रवेश कर रही है।