वर्दी हुई दागदार पुलिस उपनिरीक्षक पे लगा महिला से बलात्कार का आरोप , घाटकोपर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज

एम.आई.आलम

घाटकोपर पुलिस ठाणे से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां इसी ठाणे में तैनात पुलिस उपनिरीक्षक पर बलात्कार का आरोप लगा है। जिस ठाणे में तैनात था उपनिरीक्षक उसी ठाणे में अब उस पर एफआईआर बन चुकी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार घाटकोपर ठाणे में तैनात पुलिस उपनिरीक्षक यूसुफ शेख ने पहली पत्नी के होने के बावजूद एक दूसरी महिला से निकाह किया कुछ दिन तक सब कुछ सही चला पर जल्द ही आरोपी पुलिस निरीक्षक का व्यवहार उस महिला के प्रति बदल गया। शराब के नशे में हर रोज मारपीट गाली गलौच करने लगा।महिला से अप्रकृतिक सेक्स करने लगा महिला अपनी इज़्ज़त की खातिर चुपचाप सब कुछ सहन करती रही। महिला के गर्भवती हो जाने पर आरोपी यूसुफ शेख ने जबरन उसका गर्भपात करा दिया। कुछ दिनों बाद महिला फिर से गर्भवती हो गयी और उसने एक बेटी को जन्म दिया।
लड़की के जन्म से आरोपी पुलिस उपनिरीक्षक खुश नही था वह महिला को अपनी वर्दी और पॉवर का फायदा उठाकर डराने धमकाने लगा।
घाटकोपर पुलिस स्टेशन में काम करने वाले कुछ अन्य पुलिस वालों से अपनी दुश्मनी निकालने के लिए महिला पर दबाब डालने लगा कि मेरे साथ रहना है तो मैं जिस जिस का नाम बताऊ तू उनको झूठे केस में फसा देगी तब में तुझे अपने साथ रखूंगा।
परेशान महिला अपनी शिकायत लेकर घाटकोपर पुलिस स्टेशन पहुँच अपनी आपबीती सुनाई जिसके बाद इस आरोपी पुलिस वाले के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।
पीड़ित महिला का आरोप है कि आरोपी उपनिरीक्षक यूसुफ शेख अपनी वर्दी का फायदा उठाकर महिला और उसके परिवार वालो को डराता धमकाता रहता था। पीड़ित महिला के अनुसार कुछ दिन साथ रहने के बाद यूसफ़ शेख ने उसे छोड़ दिया महिला का 2 महीने का छोटा बच्चा होने के कारण वो कहीं नोकरी पे भी नही जा सकती यूसफ़ शेख ने महिला को खर्चा देना भी बंद कर दिया।छोटे बच्चे के लिए दूध तक के पैसे इस महिला के पास नही थे।पीड़ित महिला के अनुसार यूसुफ शेख के पास कोई भी लड़की पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराने आती है तो उस लड़की का नंबर लेकर लड़कियों को मैसेज करना शुरू कर देता है।
उपनिरीक्षक से उसकी मुलाकात कैसे हुई इस बारे में भुक्तभोगी ने बताया कि वह कुछ साल पहले गोवंडी पुलिस स्टेशन में एक शिकायत दर्ज कराने गयी थी वहाँ यूसफ शैख़ ने उस महिला का नंबर लिया था। बाद में मदद करने के नाम पर उस महिला से मिलने और प्यार मोहब्बत की बाते करने लगा। फिर शारीरिक संबध बनाने की मांग करने लगा महिला ने कहा की आप पहले से शादी शुदा हो और ये गलत काम मैं नही कर सकती तो उसने महिला से शादी करने की बात करने लगा। महिला के अनुसार गोवंडी में निकाह कर लिया। कुछ महीने साथ रहने के बाद महिला से रोज मारपीट करने लगा और महिला से मिलना बंद कर दिया। परेशान होकर जब महिला यूसुफ शेख के घर पहुची तो महिला को बुरी तरह से मारकर भगा दिया।

इस पूरे प्रकरण से भुक्तभोगी महिला बुरी तरह से टूट चुकी थी। मामला एक पुलिस उपनिरीक्षक से जुड़ा होने के कारण पुलिस भी इस महिला की शिकायत लेने में हिला हवाली कर रही थी। पीड़ित महिला ने इस पूरे प्रकरण की शिकायत कुछ समाजसेवियों की सहायता से मुम्बई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को की। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन और पूरी घटना का विवरण जानने के बाद घाटकोपर पुलिस स्टेशन में यूसुफ शेख के खिलाफ धारा 377,376(2),323,504,506,3 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया।


आरोपी पुलिस उपनिरीक्षक यूसुफ शेख

इस पूरे प्रकरण से हतप्रभ मुंबई पुलिस कमिश्नर श्री परमबीर सिंह ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा हमारी प्रमुख ज़िम्मेदारी है ऐसे में कुछ ऐसे पुलिस वाले जो खाकी और मुंबई पुलिस की छबि खराब कर रहे है ऐसे लोगो पे सख्त से सख्त करवाई होगी।
अब तक यूसुफ शेख की गिरफ्तारी की सूचना नही है। अब देखना है घाटकोपर पुलिस आरोपी यूसुफ शेख को कब गिरफ्तार करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.