टीका फर्जीवाड़े के पीड़ितों का जल्द किया जाएगा टीकाकरण : बृहन्मुंबई महानगरपालिका

Rokthok Lekhani

मुंबई : बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बंबई उच्च न्यायालय को शुक्रवार को बताया कि मुंबई में फर्जी कोविड रोधी टीकाकरण के 2,000 से अधिक पीड़ितों का टीकाकरण करने के लिए जल्द अलग से एक अभियान चलाया जाएगा। बीएमसी की ओर से पेश हुए अधिवक्ता अनिल सख्रे ने उच्च न्यायालय को बताया कि निजी रूप से आयोजित फर्जी टीका शिविरों में 2,053 लोगों के साथ ठगी की गई, जिनमें से 1,636 लोगों की जांच की गई।

उन्होंने कहा कि 1,636 लोग हमारे पास पहुंचे जिनकी हमने जांच की। उनमें कोई दुष्प्रभाव या स्वास्थ्य समस्या नहीं पाई गई। पुलिस रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्हें टीके की जगह लवणयुक्त पानी दिया गया था। सख्रे ने कहा कि हमने केंद्र सरकार से कोविन पोर्टल से इन लोगों का पंजीकरण रद्द करने और फिर से पंजीकरण करने को कहा है।

हम जल्द ही इन लोगों के टीकाकरण के लिए अभियान चलाएंगे। मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति जी.एस.कुलकर्णी की पीठ अधिवक्ता सिद्धार्थ चंद्रशेखर की जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

Click to follow us on Google News


Click to Follow us on Google News

Click to Follow us on Daily Hunt

Leave a Reply

Your email address will not be published.