पुलिस को देखकर शातिर महिला कूद गई ट्रेन के आगे

मुंबई : वसूली करने का एक आरोपी तथाा उसकी पत्नी अलग-अलग घटनाओं में नाटकीय ढंग से गिरफ्तार कर लिए गए। दोनों मुंबई में पुलिस से भागने की कोशिश कर रहे थे। अधिकारियों ने रविवार को बताया कि आरोपी संतोष कुमार रामप्रताप सिंह उर्फ बबलू ठाकुर को बृहस्पतिवार को पीछा करने के बाद एक कार से पकड़ लिया गया जबकि उसकी पत्नी रीता सिंह को उस समय पकड़ा गया जब वह शुक्रवार को दादर रेलवे स्टेशन पर एक चलती ट्रेन के आगे कूद गयी।

दादर की राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) को बृहस्पतिवार को सूचना मिली की वसूली, लूट, आपराधिक षडयंत्र तथा अन्य अपराधों में आरोपी ठाकुर उपनगर गोवंडी के पास एक व्यक्ति से मिलने जा रहा है और वह पड़ोसी ठाणे जिले में एक टोल प्लाजा के जरिए शहर से भागने की फिराक में है। यह सूचना मिलने के बाद पुलिस ने जाल बिछाया लेकिन जब ठाकुर ने पुलिस को देखा तो उसने एक कार में भागने की कोशिश की। अधिकारी ने बताया कि मोटरसाइकिल पर सवार दो पुलिसकर्मियों ने उसका पीछा किया और विभिन्न ‘नाकाबंदी’ पर अपने सहकर्मियों को भी सतर्क कर दिया। जैसे ही उसकी कार ठाणे में आनंद नगर टोल नाका के पास पहुंची तो मोटरसाइकिल पर आए पुलिसकर्मियों ने उसकी कार की खिड़कियों के शीशे तोड़ दिए और उसे पकड़ लिया।

अधिकारी ने बताया कि ठाकुर को दादर जीआरपी के पास लाया गया और गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि इससे पहले मामले की जांच के सिलसिले में पुलिस ने उसकी पत्नी को कई बार बुलाया लेकिन वह हर बार कोई बहाना बना देती। खुफिया सूचना के आधार पर पुलिस ने उसे शुक्रवार को पड़ोसी नवी मुंबई में जुईनगर से पकड़ लिया। दादर जीआरपी के पास लाए जाने के बाद उसने पुलिस को चकमा दे दिया और भागने की कोशिश में ठाणे जाने वाली एक ट्रेन के आगे कूद गई। उन्होंने बताया कि मोटरमैन ने ट्रेन की गति धीमी की और सही समय पर ट्रेन रोक दी। अधिकारी ने बताया कि महिला को मामूली चोटें आयी हैं और उसे एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि ठाकुर और उसकी पत्नी दोनों वसूली तथा लूट जैसी आपराधिक गतिविधियों में कथित तौर पर शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.