वंदे भारत मिशन के तीसरे दिन छह उड़ानों से विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाया जाएगा

वंदे भारत मिशन के तीसरे दिन छह उड़ानों से विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाया जाएगा। इनमें से पांच उड़ानें खाड़ी देशों से और एक बंगलादेश के ढाका से दिल्ली के लिए रवाना हो चुकी है। ढाका से यह दूसरी उड़ान होगी जिससे फंसे पर्यटकों, विद्यार्थियों, जरूरी इलाज कराने वालों तथा उन लोगों को लाया जा रहा है जिनकी वीजा अवधि समाप्त हो चुकी है। इन लोगों की चिकित्सा जांच के बाद केंद्र सरकार से जारी सुरक्षा नियमों के अनुसार क्वारंटीन में रखने का इंतजाम किया गया है।

हमारे दुबई संवाददाता ने खबर दी है कि वंदे भारत मिशन विदेश में फंसे भारतीयों के लिए आशा की किरण साबित हुई है। इस मिशन के तीसरे दिन आज 850 भारतीय विभिन्न खाड़ी देशों से लखनऊ, हैदराबाद और कोच्चि पहुंच रहे हैं। शारजाह से एक विशेष उड़ान से 175 से अधिक भारतीयों को लखनऊ लाया जाएगा। कुवैत से 150 भारतीय हैदराबाद और 172 कोच्चि पहुंच रहे हैं। दोहा से 175 से अधिक भारतीय वापस आ रहे हैं। विदेश में सभी भारतीय दूतावास मुसीबत में फंसे कामगारों, वरिष्ठ लोगों, तत्काल उपचार की आवश्यकता वाले लोगों और गर्भवती महिलाओं को स्वदेश वापसी के लिए प्राथमिकता दे रहे हैं। आज आधी रात के बाद तीन और उड़ानें भारत पहुंचेंगी। शुक्रवार तक कई देशों से ऐसी और उड़ाने आएंगी।

वहीं दूसरी ओर, वंदे भारत अभियान के तहत खाड़ी क्षेत्रों से प्रवासियों को ले जाने वाली तीन उड़ानें लगभग 600 यात्रियों के साथ आज केरल में कोच्चि के लिए रवाना होंगी।

वंदे भारत मिशन के तहत तीन सौ 59 प्रवासी भारतीय आज तडके दुबई से दो उडानों से चेन्‍नई पहुंचे। वहां पहुंचने पर उनका चिकित्‍सा परीक्षण किया गया और केन्‍द्र सरकार के सुरक्षा संबंधी नियमों के अनुसार उन्‍हें क्‍वारंटीन में भेज दिया गया। अगले शुक्रवार तक कई अन्‍य देशों से इसी तरह की उडानों को भारत पहुंचने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.