ट्विटर ने 5 बड़े RSS नेताओं के हैंडल से ब्लू टिक हटा दिया है

नईदिल्ली। भारत के उप-राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के अलावा माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म Twitter ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) नेताओं को भी निशाना बनाया है। ट्विटर ने 5 बड़े RSS नेताओं के हैंडल से ब्लू टिक हटा दिया है, अर्थात उन्हें ‘Unverified’ की श्रेणी दी है। जिन 5 RSS नेताओं के ट्विटर हैंडल से ब्लू टिक हटाया गया, वो हैं – मोहन भागवत, सुरेश जोशी, सुरेश सोनी, अरुण कुमार, अनिरुद्ध देशपांडे और कृष्णा गोपाल।

सुरेश सोनी और कृष्णा गोपाल RSS के सह-सरकार्यवाह हैं, वहीं अरुण कुमार ‘अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख’ के पद पर हैं। सुरेश सोनी सरकार्यवाह के पद पर हैं। जुलाई 2019 को RSS प्रमुख मोहन भागवत सहित संघ के अन्य नेताओं के ट्विटर पर आने की घोषणा की गई थी और तब के ट्वीट्स में देखा जा सकता है कि उन्हें ब्लू टिक भी मिला हुआ था। अभी तक इन्हें ‘Unverify’ किए जाने का कारण सामने नहीं आया है।

मोहन भागवत के 207.2K फॉलोवर्स हैं, वहीं RSS के संपर्क प्रमुख अनिरुद्ध देशपांडे के ट्विटर हैंडल से भी वेरिफिकेशन बैज हटा दिया गया है। सुरेश भैयाजी जोशी के ट्विटर हैंडल पर 49.4 हजार, सुरेश सोनी के 33.6 हजार, अनिरुद्ध देशपांडे के 28 हज़ार, कृष्णा गोपाल के 40 हज़ार और अरुण कुमार के 35.6 हज़ार फॉलोवर्स हैं।

बता दें कि Twitter ने भारत के उप-राष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू के हैंडल को भी ‘Unverified’ की श्रेणी में डालते हुए ब्लू टिक हटा दिया था। लेकिन बवाल और चौतरफा मीडिया रिपोर्टिंग के बाद इसे रिस्टोर कर दिया गया। मुंबई भाजपा के प्रवक्ता सुरेश नखुआ ने कहा कि Twitter की ये हरकत सीधा भारत के संविधान का अपमान है। इसी तरह अन्य नेताओं ने भी Twitter का विरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.