संजय दत्त ने कहा अध्याय 2’ ने मुझे मेरी क्षमता की याद दिला दी

मुंबई:हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘केजीएफ : अध्याय 2’ से कन्नड़ सिनेमा में कदम रखने वाले बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त ने शनिवार को कहा कि वह उसे अपने सुविधा क्षेत्र से बाहर निकलकर कुछ विशेष करने के लिए फिल्म को हमेशा याद रखेंगे।

बता दें कि 62 वर्षीय अभिनेता ने पीरियड एक्शन ड्रामा फिल्म में खलनायक अधीरा की भूमिका निभाई है। ये 2018 की ब्लॉकबस्टर फिल्म ”केजीएफ अध्याय-1” का दूसरा भाग है।

प्रशांत नील द्वारा निर्देशित, दो-भाग वाली फिल्म श्रृंखला रॉकी (यश) की कहानी है, जो कि अनाथ है और गरीबी से उठकर सोने की खान का राजा बन जाता है।
14 अप्रैल को रिलीज हुई इस फिल्म को समीक्षकों और दर्शकों से जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली थी।

संजय दत्त ने ट्विटर पर एक संदेश जारी करते हुए लिखा, ”हर बार एक समय में मैं एक ऐसी फिल्म की तलाश करता हूं जो मुझे मेरे कम्फर्ट जोन से बाहर निकाल दे। ‘केजीएफ अध्याय 2’ मेरे लिए वह फिल्म थी। इसने मुझे मेरी क्षमता की याद दिला दी और इसके बारे में कुछ ऐसा महसूस हुआ कि मैं कह सकता था मुझे बहुत मजा आया। दत्त ने आगे कहा कि अधीरा की भूमिका निभाने का श्रेय निर्देशक नील को जाता है।

संजय दत्त ने कहा, ”मेरे निर्देशक प्रशांत नील ने मुझे खतरनाक ‘अधीरा’ का विजन बेच दिया था। फिल्म में मेरी भूमिका का श्रेय पूरी तरह प्रशांत को जाता है। जहाज के कप्तान के रूप में, यह उनका सपना है जिसे हम सभी स्क्रीन पर लाए।”

अभिनेता ने अपने प्रशंसकों, शुभचिंतकों और परिवार का हमेशा समर्थन के लिए आभार व्यक्त किया। इस फिल्म में संजय दत्त के अलावा यश, रवीना टंडन, प्रकाश राज, मालविका अविनाश, श्रीनिधि शेट्टी और अन्य लोग शामिल हैं।